नई दिल्ली [ जेएनएन ]। नई दिल्ली-पलवल रेलखंड पर स्थित रेलवे स्टेशनों पर अब प्लेटफॉर्म टिकट खरीदने के लिए टिकट काउंटर पर धक्का मुक्की करने की जरूरत नहीं है। आप अपने स्मार्ट मोबाइल फोन पर 'यूटीएस ऑन मोबाइल एप्लीकेशन डाउन लोड कर टिकट खरीद सकते हैं।

नई दिल्ली और हजरत निजामुद्दीन रेलवे स्टेशन पर पहले से यह सुविधा उपलब्ध थी, लेकिन अब इस रेलखंड के सभी 11 रेलवे स्टेशनों पर यात्री इस सुविधा का लाभ उठा सकेंगे। इसके लिए क्रिस ने रेलवे के एप में बदलाव किया है।

पिछले वर्ष सितंबर महीने में इस रेलखंड पर मोबाइल एप से अनारक्षित टिकट बुकिंग की सुविधा शुरू की गई थी। कुछ महीने पहले इस एप से नई दिल्ली व हजरत निजामुद्दीन रेलवे स्टेशन पर प्लेटफॉर्म टिकट खरीदने की सुविधा शुरू की गई थी। इसका विस्तार कर अब इस रेलखंड के अन्य स्टेशनों पर यह सेवा शुरू कर दी गई है।

रेलवे अधिकारियों ने बताया कि जो उपभोक्ता पहले से इस एप्लीकेशन का प्रयोग कर रहे हैं, उन्हें इसे अपडेट करना होगा। उसके बाद प्लेटफॉर्म टिकट के कॉलम में अन्य स्टेशनों के नाम दिखने लगेगा। पिछले सप्ताह से ट्रायल के तौर पर यह सुविधा शुरू की गई है जल्द ही इसे नियमित कर दिया जाएगा।

इस एप्लीकेशन का कोई दुरुपयोग नहीं करे इसके लिए नई दिल्ली-पलवल रेलखंड के रेलवे ट्रैक के दोनों ओर 20 मीटर तक के क्षेत्र का जिओ फेंसिंग की गई है। इस दायरे में ऑनलाइन अनारक्षित टिकट बुकिंग नहीं होगी। ऐसा स्टेशन परिसर में प्रवेश करने से पहले यात्रियों के पास टिकट सुनिश्चित करने के लिए किया गया है।

बुकिंग प्रक्रिया के दौरान यात्रियों के मार्गदर्शन के लिए एप्लीकेशन में ऑन स्क्रीन अलर्ट की सुविधा उपलब्ध है। टिकट के लिए भुगतान एप में दिए गए फीचर रेलवे वॉलेट के माध्यम से होता है। टिकट बुक होने पर इसकी सूचना मोबाइल स्क्रीन पर मिल जाती है। इस टिकट के साथ किसी तरह का छेड़छाड़ संभव नहीं है।

पेपरलेस टिकट का दुरुपयोग नहीं हो इसके लिए जरूरी कदम उठाए गए हैं। प्रतिदिन टिकट का रंग बदल जाता है। रोजाना एक गुप्त कोड भी उपयोग में लाया जाता है।

इस टिकट को न तो किसी अन्य मोबाइल पर फॉरवर्ड किया जा सकता है और न इसका प्रिंट निकलेगा। यानी जिस मोबाइल पर एप डाउन लोड है उसी से टिकट बुक कराकर उसे यात्रा के दौरान साथ रखना होगा। मोबाइल में पुराना टिकट अपने डिलिट हो जाएगा।

इन स्टेशनों पर एप से ले सकते हैैं प्लेटफॉर्म टिकट

नई दिल्ली, शिवाजी ब्रिज, तिलक ब्रिज, हजरत निजामुद्दीन, ओखला, तुगलकाबाद, फरीदाबाद, बल्लभगढ़, पलवल, न्यूटाउन और असावटी।

खोज परिणाम

Posted By: Ramesh Mishra