नई दिल्ली [राकेश कुमार सिंह]। दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने कुख्यात अंतरराज्यीय गैंगस्टर कपिल सांगवान उर्फ नंदू गिरोह के शूटर शेखर उर्फ सोनू को गिरफ्तार किया है। शेखर उत्तम नगर के एक प्रापर्टी डीलर पर फायरिंग करने के मामले में वांछित था। कपिल सांगवान के निर्देश पर रंगदारी न देने पर शेखर व अन्य बदमाशों ने प्रापर्टी डीलर के कार्यालय पर धाबा बोल फायरिंग की थी। डीसीपी संजीव कुमार यादव के मुताबिक शेखर के पास से द्वारका से चोरी हुई एक पल्सर मोटरसाइकिल, दो 32 बोर की पिस्टल सहित 8 कारतूस बरामद किए गए हैं। एसीपी संजय दत्त व इंस्पेक्टर राहुल कुमार सिंह के नेतृत्व में सेल की टीम ने शेखर को गिरफ्तार किया। वह गांव बोहर, रोहतक, हरियाणा का रहने वाला है। कपिल यूरोप में बैठकर गिरोह चला रहा है। उसके खिलाफ हत्या, हत्या के प्रयास, लूटपाट, रंगदारी मांगने के 25 से अधिक मामले दर्ज हैं।

11 जनवरी को शेखर व एक अन्य बदमाश बाइक से दाेपहर के समय उत्तम नगर के दयालसर रोड स्थित प्रापर्टी डीलर राहुल गोयल के कार्यालय पर पहुंचे थे। वहां उन्होंने अंधाधुंध फायरिंग की थी। पीड़ित ने बिंदापुर थाने में एफआईआर दर्ज करा दी थी। कपिल सांगवान गिरोह द्वारा पैदा किए गए खतरे को नियंत्रित करने के लिए स्पेशल सेल लगातार प्रयास कर रही है। हाल के दिनों में इस गिरोह के कई सदस्यों को सेल गिरफ्तार कर चुकी है। 20 जनवरी को सूचना मिली कि शेखर किसी से मिलने सुरहेरा मोड़, नजफगढ़ ढांसा रोड के पास आने वाला है वहीं से उसे दबोच लिया गया। उसके पास से पिस्टल और कारतूस बरामद किए गए। शेखर रोहतक में अपनी आजीविका के लिए भवनों के निर्माण में शटरिंग का काम करता था।

बाद में वह अनिल पोडी के संपर्क में आया जो कपिल सांगवान उर्फ नंदू का दाहिना हाथ है। अनिल पोडी के निर्देश पर उसने विकास के साथ मिलकर प्रॉपर्टी डीलर राहुल गोयल के कार्यालय पर फायरिंग कर दी। अनिल पोडी को कपिल सांगवान से संबंध रखने के लिए मकोका के तहत गिरफ्तार किया गया था। फिलहाल वह तिहाड़ जेल में बंद है। शेखर को अनिल पोडी के माध्यम से किश्तों में 20,000 रुपये का भुगतान किया गया था और रंगदारी के पैसे मिलने के बाद अच्छी राशि देने का वादा किया गया था। उक्त गिरोह दिल्ली और हरियाणा में कई रंगदारी और हत्या के मामले में शामिल है। शेखर के खिलाफ हरियाणा में आर्म्स एक्ट और वाहन चोरी के मामले दर्ज है।

Edited By: Mangal Yadav