नई दिल्ली, जेएनएन। Noida-Greater Noida Metro Aqua Line: दिल्ली से सटे यूपी के गौतमबुद्धनगर में चलने वाली एक्वा लाइन मेट्रो (नोएडा-ग्रेटर नोएडा मेट्रो) के हजारों यात्रियों के यह महत्वपूर्ण खबर है। दरअसल, नोएडा मेट्रो रेल निगम (Noida Metro Rail Corporation) अगले कुछ दिनों में अपने यात्रियों को जूट बैग देगा, वह भी मुफ्त में। इसके लिए शर्त यह होगी कि यात्रियों को प्लास्टिक बैग और बोतल मेट्रो स्टेशनों पर बने डिपोजेबल मशीन में डालने होंगे। इसके तत्काल बाद उन्हें इसके बदले जूट बैग मुफ्त में मिल जाएगा, वह भी मेट्रो स्टेशन पर ही। है ना एक्वा लाइन के हजारों यात्रियों के खुशखबरी। दरअसल, 2 अक्टूबर से इस योजना की शुरुआत नोएडा-सेक्टर-51 से की जा रही है। इसके बाद अन्य मेट्रो स्टेशनों पर भी इसे लागू करने की योजना है।

मेट्रो स्टेशनों पर लगेंगी प्लास्टिक डिस्पोजेबल मशीन

नोएडा मेट्रो रेल निगम से जुड़े अधिकारियों के मुताबिक, NMRC जल्द ही एक्वा लाइन के सभी मेट्रो स्टेशनों पर प्लास्टिक डिस्पोजेबल मशीनें (install plastic disposal machines) अथवा कियोस्क (kiosks) स्थापित करेगा।इन मशीनों के लगने के बाद मेट्रो यात्री इसमें बोतल डाल सकेंगे, जिसके बाद ये प्लास्टिक बैग गोलियों में तब्दील हो जाएंगे। अधिकारियों की मानें तो डिस्पोजेबल मशीन इन बोतल और प्लास्टिक मैटरियल को अन्य चीजों में तब्दली कर देगा, जो बाद में इस्तेमाल में लाई जा सकेंगी। वहीं, मेट्रो यात्री प्लास्टिक बैग्स और बोतलों के बदले फ्री में जूट बैग ले सकेंगे।

नोएडा मेट्रो रेल निगम के कार्यकारी निदेशक पीडी उपाध्याय (P D Upadhyay, executive director, NMRC) के मुताबिक, हमारा प्रयास रहेगा कि ज्यादातर प्लास्टिक कचरा रिसाइकल हो सके। हमें पूरी उम्मीद है कि एक सप्ताह के भीतर प्लास्टिक डिस्पोजेबल मशीन अथवा कियोस्क लगा दिए जाएंगे। बता दें कि पिछले दिनों पीएम मोदी (Prime Minister narendra modi) एकल उपयोग प्लास्टिक (।single-use plastic) पर राष्ट्रीय स्तर पर बैन का एलान किया था। हमने  प्लास्टिक डिस्पोजेबल मशीन मशीनें एयरपोर्ट और कुछ मेट्रो स्टेशनों पर देखी हैं।

पीडी उपाध्याय के मुताबिक, प्लास्टिक की बोतलें एक विशाल खतरे के रूप में तब्दील हो जाती हैं, खासकर जब वे लैंडफिल तक पहुंचती हैं।

उन्होंने बताया कि हमारे पास वितरण करने के पर्याप्त जूट बैग्स हैं। अधिकारी के मुताबिक,10 प्लास्टक बैग या 20 पॉलीथिन बैग्स के बदले एक जूट मिलेगा। हमारे पास भुगतान क्षेत्र के भीतर काउंटर होंगे। आमतौर पर उपलब्ध कपड़े के थैलों के विपरीत, हमने सुनिश्चित किया है कि ये बैग सब्जी या किराने की खरीदारी के लिए कई बार उपयोग किए जाने के लिए पर्याप्त मजबूत हैं।

जानें नोएडा- ग्रेटर नोएडा के बारे में

  • मेट्रो की एक्‍वा लाइन का संचालन 25 जनवरी से शुरू हुआ
  • एक्वा लाइन मेट्रो के शुरू होते ही नोएडा-ग्रेटर नोएडा की दूरी घटी
  • नोएडा-ग्रेटर नोएडा (एक्वा लाइन) मेट्रो का किराया दिल्ली मेट्रो से कम है
  • इस रूट पर सफर के दौरान किराए के तौर पर कम से कम 9 रुपये कार्ड से और 10 रुपये टोकन से अदा करना होता है।
  • टोकन से अधिकतम किराया 50 रुपये होगा, जबकि कार्ड से मैक्सिमम फेयर 45 रुपये देना होता है
  • नोएडा-ग्रेटर नोएडा मेट्रो के जरिये दिल्ली के लोग भी सफर करते हैं

 इन सेक्टर व इलाके के लोगों को होता है फायदा

  • सेक्टर -34
  • सेक्टर- 50
  • सेक्टर 51
  • सेक्टर-78
  • सेक्टर-81
  • सेक्टर 83
  • दादरी रोड
  • सेक्टर-142
  • सेक्टर-144
  • सेक्टर-147
  • सेक्टर-153
  • सेक्टर- 149
  • नॉलेज पार्क 1
  • नॉलेज पार्क- 2
  • परी चौक
  • अल्फा वन
  • डेल्टा वन 

दिल्ली-NCR की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां पर करें क्लिक

 

Posted By: JP Yadav

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप