नई दिल्‍ली, एएनआइ। 20 मार्च, 2020 को निर्भया को न्‍याय (Nirbhaya Justice) मिला है। निर्भया के चारों दोषियों को फांसी की सजा मिल जाने के बाद कई लोगों की प्रतिक्रिया सामने आ रही है। इसी कड़ी में इधर राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्‍यक्ष रेखा शर्मा ने कहा कि आज एक उदाहरण सेट किया गया है। हालांकि फैसले की देरी पर थोड़ी निराशा जताते हुए कहा कि यह पहले भी हो सकता था। अब लोगों को पता है कि उन्हें सजा दी जाएगी, आप तारीख बढ़ा सकते हैं लेकिन आपको सजा मिलेगी।

दिल्‍ली महिला आयोग अध्‍यक्ष स्‍वाति जयहिंद ने कहा कि यह एक ऐतिहासिक दिन है। निर्भया को सात साल बाद न्‍याय मिला है। आज उसकी आत्‍मा को शांति मिली होगी। देश ने आज दुष्‍कर्मियों को एक कड़ा संदेश दिया है, अगर कोई ऐसा क्राइम करेगा तो उसे फांसी के तख्‍त पर लटकना ही पड़ेगा।

सवा सात साल बाद मिलेगी निर्भया की आत्मा को शांति

इधर, दक्षिणी दिल्ली में निर्भया मामले में मुनिरका बस स्टैंड पर खड़े और आसपास रहने वाले लोगों ने खुशी जताई। लोगों का कहना था कि न्याय मिलने में काफी देर हुई, लेकिन मिला जरूर। उन्होंने कहा कि करीब सवा सात साल बाद निर्भया को न्याय मिला है। लोगों का कहना है कि कानून से खिलवाड़ करने वाले वकीलों पर भी मुकदमा चलना चाहिए।

Posted By: Prateek Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस