नई दिल्ली [सुशील गंभीर]। 2012 Delhi Nirbhaya case: निर्भया मामले में कोर्ट के द्वारा फैसला आने के बाद निर्भया की मां ने कहा मेरी बेटी को आज इंसाफ मिला है। उन्‍होंने कहा कि दोषियों को सजा मिलने से देश में महिला शक्‍ति को मजबूती मिलेगी। इस फैसल से लोगों को न्‍याय वयवस्‍था में विश्‍वास जगा है।

वहीं डेथ वारंट याचिका पर कोर्ट में सुनवाई के दौरान एक ऐसा पल भी आया जब एक दोषी की मां रो पड़ी। इस पर निर्भया की मां ने कहा हम तो सालों से रो रहे हैं। इससे पहले निर्भया के वकीलों ने डेथ वारंट जारी करने की मांग की। हालांकि इसके बाद भी 14 दिन का समय होता है तब तक दोषी चाहें तो कानूनी मदद ले सकते हैं। बता दें कि निर्भया मामले में दोषियों को सजा दिलाने के लिए हो रही बहस पूरी हो चुकी है। इस मामले में कोर्ट ने आज फैसला सुनाया। 

वीडियो कॉन्‍फ्रेंसिंग के जरिए सुनवाई

इससे पहले दोषियों को वीडियो कॉन्‍फ्रेंसिंग के जरिए पेश किया गया। वहीं कोर्ट ने कोर्ट रूम को खाली करने का आदेश दिया यानी की बंद कमरे में इसकी सुनवाई होगी जहां कैमरा नहीं होगा।

गवाह पर केस चलाने की याचिका कोर्ट ने की खारिज

इससे पहले एक अन्‍य मामले में निर्भया मामले में गवाह पर केस दर्ज करने की मांग वाली अर्जी को पटियाला हाउस अदालत ने खारिज कर दिया। अदालत ने कहा इस अर्जी में ऐसा कुछ नहीं है, जिस पर केस दर्ज करने का आदेश दिया जा सके। अदालत में दोषी पवन गुप्ता के पिता हीरा लाल ने अर्जी दायर कर मांग की थी कि इस मामले में गवाह पर केस दर्ज किया जाए, क्योंकि उसने गलत बयानबाजी की है।

कोर्ट की टिप्‍पणी

अर्जी पर सुनवाई करते हुए अदालत ने कहा कि एक गवाह की विश्वसनीयता का अंदाजा इस बात से नहीं लगाया जा सकता कि वह अदालत के बाहर क्या कहता है। किसी भी गवाह को अदालत में शपथ दिलाकर बयान लिया जाता है। गवाह अदालत के बाहर क्या कहता है, इस पर अदालत उसकी विश्वसनीयता पर सवाल नहीं उठा सकती। पवन गुप्ता के पिता ने अर्जी में कहा था कि निर्भया केस में गवाह ने कई टीवी चैनलों से पैसा लेकर बयान दिए। उसके बयानों की वजह से यह मीडिया ट्रायल बन गया और केस पर असर पड़ा।

2012 Nirbhaya Case: चारों दोषियों को फांसी देने में लग सकते हैं छह घंटे, जानें पूरी प्रक्रिया

दिल्‍ली-एनसीआर की खबरों को पढ़ने के लिए यहां करें क्‍लिक

Posted By: Prateek Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस