नई दिल्ली [जेएनएन]। पटियाला हाउस कोर्ट ने राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआइए) को शाहिद यूसुफ की सात दिन की रिमांड सौंप दी है। शाहिद यूसुफ आतंकी संगठन हिजबुल मुजाहिदीन के सरगना चौधरी सैयद सलाहुद्दीन का बेटा है।

जम्मू-कश्मीर में कृषि विभाग में कार्यरत यूसुफ पर अपने पिता से 2011 में आतंकी फंडिंग हासिल करने का आरोप है। समन पर पेश हुए यूसुफ को एनआइए ने पूछताछ के बाद मंगलवार को गिरफ्तार कर लिया था। एनआइए ने बुधवार को उसे अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश पूनम ए बंबा की अदालत में पेश किया।

वायर ट्रांसफर कंपनी के माध्यम से रकम हासिल

जांच एजेंसी ने कोर्ट को बताया कि 42 वर्षीय शाहिद यूसुफ सऊदी अरब में मौजूद हिजबुल मुजाहिदीन के आतंकी एजाज अहमद भट के सपर्क में था। घाटी में आतंकी गतिविधियों के लिए इसने अमेरिका स्थित इंटरनेशनल वायर ट्रांसफर कंपनी के माध्यम से रकम हासिल की थी।

दो चार्जशीट दाखिल कर चुकी है एनआइए

2011 में पाकिस्तान से हवाला के जरिये जम्मू-कश्मीर में भेजे गए आतंकी फंड के मामले में एनआइए ने केस दर्ज किया था। इस मामले में एनआइए अब तक दो चार्जशीट दाखिल कर चुकी है। जिसमें अलगाववादी सैयद अली शाह गिलानी के करीबी जीएम भट, मोहम्मद सिद्दीकी गनाई, गुलाम जिलानी लिलू और फारुक अहमद दग्गा को आरोपी बनाया गया है। सभी न्यायिक हिरासत में जेल में बंद है। 

यह भी पढ़ें: मनी लॉन्ड्रिंग मामले में यादव सिंह को राहत, सुप्रीम कोर्ट से मिली जमानत

यह भी पढ़ें: शर्मनाक: तीसरी बेटी हुई तो अस्पताल में लावारिस छोड़ गई मां, तलाश जारी

Posted By: Amit Mishra

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस