नई दिल्ली (जेएनएन)। गुरुग्राम में एक मनोरंजन पार्क द्वारा भूजल के अंधाधुंध दोहन पर नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल (एनजीटी) ने हरियाणा सरकार को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है। जवाद रहीम की अगुवाई वाली बेंच ने हरियाणा सरकार सहित केंद्रीय भूजल प्राधिकरण (सीजीडब्ल्यूए), हरियाणा अर्बन डेवलपमेंट अथॉरिटी (हुडा) और इंटरनेशनल रिक्रिएशन एंड एम्यूजमेंट लिमिटेड (आइआरएएल) से 31 जुलाई तक जवाब देने को कहा है।

बता दें कि आइआरएएल गुरुग्राम (सेक्टर 29) में 'अप्पू घर' का संचालन करती है। 42 एकड़ के 'अप्पू घर' में ओइस्टर्स बीच नाम का 10 एकड़ का एक वाटर पार्क भी है। आरटीआइ एक्टिविस्ट हरिंदर ढींगरा ने दायर याचिका में अपील की है कि 'अप्पू घर' को भू-जल के अवैध इस्तेमाल से रोका जाए।

साथ ही इसकी जांच के लिए विशेषज्ञों की टीम गठित की जाए। केंद्रीय भू-जल प्राधिकरण ने भू-जल को लेकर गुरुग्राम को सबसे अधिक शोषित घोषित क्षेत्र घोषित किया है। इसके बाद भी नियमों को ताक पर रख कर ऐसा किया जा रहा है।

By JP Yadav