नई दिल्ली [राहुल चौहान]। मुस्लिम राष्ट्रीय मंच ऐसे किसी भी व्यक्ति, समुदाय, मीडिया और पार्टी की कड़ी निंदा करता है जो निजी लाभ के लिए दूसरों के खिलाफ कीचड़ उछालने एवं राष्ट्रवादी संगठनों व देशभक्तों को बदनाम करने की साजिश रचते हैं। यह कहना है मंच के राष्ट्रीय मीडिया प्रभारी शाहिद सईद का। मंच की ओर से जारी बयान में सईद ने कहा कि जिस प्रकार एक झूठी एवं मनगढ़ंत खबर को मीडिया हाउस एवं वर्ग विशेष सोशल मीडिया पर घिनौनी साजिश के तहत वायरल कर रहा है मंच इसकी घोर निंदा करता है और प्रोपेगंडा फैलाने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग करता है। जहां तक प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, भाजपा, मुस्लिम राष्ट्रीय मंच, संघ या संघ से जुड़े संगठनों को बदनाम करने का मामला है तो इतिहास गवाह है कि ऐसी शक्तियों ने पहले भी अनेकों बार मुंह की खाई है।

कन्हैयालाल के कातिलों को जल्द मिले फांसी

मंच आग्रह करता है कि देश की आवाम प्रोपेगंडा वादियों को मुंहतोड़ जवाब दे। साथ ही उदयपुर हुई घटना में कन्हैयालाल के कातिलों को जल्द से जल्द सरे आम फांसी दिए जाने की मांग करता है। ताकि देश विरोधी ताकतें और अमन के दुश्मनों को कठोरतम सबक मिले।

मंच एक राष्ट्रवादी ताकत

उन्होंने कहा कि उदयपुर के कातिलों से भाजपा और मुस्लिम राष्ट्रीय मंच का संबंध जोड़ने की साजिश रची जा रही है। इस संबंध में मुस्लिम राष्ट्रीय मंच राजस्थान द्वारा साफ तौर से कहा जा चुका है कि कन्हैया लाल का कातिल मोहम्मद रियाज़ न कभी मंच का सदस्य था, न है और न ही वो मंच के किसी कार्यक्रम में कभी सहभागी रहा है। उन्होंने कहा कि मंच एक राष्ट्रवादी ताकत है जो हर समय देश को जोड़ने में विश्वास रखता है। तुष्टिकरण की राजनीति से दूर मंच का मिशन सबके साथ, सबके विकास, सबके विश्वास में है।

Edited By: Prateek Kumar