नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। Diwali 2019: दिवाली के दौरान आग लगने की घटना न हो और यदि हादसा हो तो उस पर जल्द से जल्द नियंत्रण के लिए दिल्ली अग्निशमन विभाग ने पूरी तरह से कमर कस ली है। दिवाली पर आग की घटनाओं पर काबू पाने के लिए राजधानी में 39 स्थानों पर वैकल्पिक व्यवस्था की गई है। इलाके के मुताबिक वहां फायर टेंडर, इनोवा कारें व मोटरसाइकिल दमकल तैनात किए जाएंगे।

63 दमकल केंद्र रहेंगे अलर्ट

वहीं, मौजूद 63 दमकल केंद्र अलर्ट पर रहेंगे। उधर आग बुझाने में कर्मियों की कमी आड़े न आए इसके लिए दमकल कर्मियों की छुट्टियां रद कर दी गई हैं। वहीं आग की घटना होने पर अधिकारी भी उस पर नजर रखेंगे। त्वरित सूचना अथवा आदेश के लिए वायरलेस सेट से दमकल कर्मी एक दूसरे के संपर्क में रहेंगे।

दीपावली की रात आग लगने की घटनाओं की में होता है इजाफा

दरअसल दिवाली में आग लगने की घटनाओं में काफी इजाफा हो जाता है। ज्यादातर मामले में घर में जलाए दिए, बिजली के तारों में शार्ट सर्किट और पटाखे की वजह से आग लगती है। यदि आग पर तुरंत काबू नहीं पाया गया तो आग विकराल रूप ले लेती है। इसमें जान-माल के नुकसान की आशंका बनी रहती है। गत वर्षों तक दिवाली वाले दिन आग की औसतन 200 काल आती थीं। चूंकि, इस वर्ष घातक पटाखों पर प्रतिबंध लगा हुआ है, इसलिए आग की घटनाओं में कमी की उम्मीद की जा रही है। बावजूद इसके दमकल विभाग आग से बचाव के प्रति कोई जोखिम नहीं उठाना चाह रहा है।

कम समय में आग पर काबू का प्रयास 

दिल्ली अग्निशमन विभाग के डायरेक्टर विपिन कैंटल ने बताया कि यह प्रयास रहेगा कि दिवाली के दौरान कम से कम समय में आग को काबू में किया जाए। इसके लिए राजधानी में मौजूद सभी दमकल केंद्र हाई अलर्ट पर रहेंगे। वहीं, राजधानी में 39 संवेदनशील स्थानों पर आग बुझाने की वैकल्पिक व्यवस्था के तहत वहां दमकल वाहन तैनात किए जाएंगे। 22 स्थानों पर फायर टेंडर, 11 स्थानों पर इनोवा कारें, जबकि संकरी गली वाले 6 इलाके में मोटरसाइकिल दमकल की तैनात की जाएंगी।

छोटी दीपावली की रात भी दमकल की गाड़ियां रहती हैं मौजूद

उन्होंने बताया कि छोटी दिवाली वाली रात भी संवेदनशील स्थानों पर दमकल की गाड़ियां खड़ी की जाएंगी। इसके लिए सभी डिविजन आफिसर को विशेष निर्देश दिए जाने के अलावा दिवाली के दौरान सभी कर्मियों की छुट्टियां निरस्त कर दी गई हैं। उन्होंने बताया कि इस दौरान सभी के पास वायरलेस सेट हो यह भी सुनिश्चत करने को कहा गया है। वाहन और भूमिगत टैंक की मरम्मत के अलावा टैंक में पर्याप्त संख्या में पानी रखा जाना सुनिश्चत कर लिया गया है। आग की बड़ी दुर्घटना होने पर वहां अन्य इलाके से दमकल की गाड़ियां भेजी जाएंगी। वहीं, बचाव व कार्रवाई पर अधिकारी नजर रखेंगे। उन्होंने लोगों से अपील की है कि वे ग्रीन पटाखों को जलाते समय भी सावधानी बरतें।

यहां तैनात की जाएंगी मोटरसाइकिल

अंबेडकर नगर, कापसहेड़ा, चांदनी चौक, घंटाघर सब्जी मंडी, शीला सिनेमा पहाड़गंज, शादीपुर डिपो पुलिस स्टेशन। इन जगहों पर दिवाली के मौके पर आग से जुड़ी दुर्घटनाओं से खड़ी होने वाली आपात स्थिति के मद्देनजर वैकल्पिक व्यवस्था रहखी जाएगी।

इन स्थानों पर होगी फायर टेंडर की तैनाती

बाराटूटी चौक, तिलक नगर, लाजपत नगर सेंट्रल मार्केट, लालकुआं चौक, लाहौरी गेट, नांगलोई पुलिस स्टेशन, साउथ एक्सटेंशन, सोनिया विहार, महरौली थाना, घिटोरनी मेट्रो स्टेशन, अलीपुर थाना, रानी बाग मेन मार्केट, मंगोलपुरी कतरन मार्केट, गांधी नगर मार्केट, महिपालपुर चौक, संगम विहार, मुंडका मेट्रो स्टेशन, छतरपुर और आजाद मार्केट, जयपुर गोल्डन अस्पताल, पेपर मार्केट गाजीपुर व यमुना विहार।

दिल्‍ली-एनसीआर की खबरों को पढ़ने के लिए यहां करें क्‍लिक

Posted By: Prateek Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस