गुरुग्राम (जेएनएन)। सोहना में युवकों के गुप्तांगों का ऑपरेशन करवाकर किन्नर बनाने का सनसनीखेज मामला सामने आया है। सोहना के शिव कॉलोनी के रहने वाले पीड़ित युवक आकाश ने किन्नरों पर अगवा करने व गुप्तांग का ऑपरेशन करवाकर किन्नर बनाने का गंभीर आरोप लगा पुलिस में शिकायत दी है।

किन्नर बनाने का आरोप 
शिकायत को करीब डेढ़ माह हो चुका है पर पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की है। पीड़ित की मां का भी आरोप है कि पुलिस कार्रवाई के नाम पर पैसे की मांग कर रही है। इस घटना के बाद मंगलवार को सोहना के ही रहने वाले राहुल ने भी किन्नरों पर किन्नर बनाने के आरोप लगाया है। ऐसे में एक के बाद एक युवकों को अगवा कर किन्नरों द्वारा एक नहीं दो तीन युवकों को किन्नर बनाने के मामले सामने आने लगे हैं। पीड़ित राहुल ने भी पुलिस को शिकायत दी है। इनके अलावा भी दो युवक ऐसा ही आरोप लगा रहे हैं, मेडिकल की रिपोर्ट व पुलिस की जांच के बाद ही मामला स्पष्ट हो पाएगा।

अगवा करने का आरोप
युवक आकाश ने बताया कि कुछ दिन पहले वो चुंगी नंबर एक पर झांकी निकालने का काम करने गया था जहां से किन्नर उसे अगवा कर ले गए। आरोप है कि रात को इंजेक्शन लगा बेहोश कर कर दिया। होश आया तो पता चला कि उसे किन्नर बना दिया गया है। उसने फोन पर अपनी मां को खबर दी। एएसआई सुरेंद्र कहा कहना है कि मामले को थाना प्रभारी की संज्ञान में ला दिया गया है। मेडिकल की रिपोर्ट के बाद ही मामले का सही पता लग पाएगा। जांच में पुलिस जुटी है। 

बिजली बाई के नाम फेमस 
हाल ही में दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने एक ऐसे किन्नर को गिरफ्तार किया था जो सड़क पर काम करने वाले लोगों को अपना निशाना बनाता था। आरोपी किन्नर आम लोगों को बहला फुसलाकर अपने साथ ले जाता था और उनका प्राइवेट पार्ट काटकर उन्हें नपुंसक बना देता था।

बिजली बाई के नाम से फेसम
जहांगीरपुरी इलाके में आरोपी किन्नर को बिजली बाई के नाम से जाना जाता है। हाल ही में आरोपी किन्नर ने खजूरी खास इलाके में रहने वाले एक युवक को अपना निशाना बनाया था। उसने पहले युवक को अपने झांसे में फंसाया और फिर मौका पाकर उसका प्राइवेट पार्ट काट दिया। 

तादाद बढ़ाने के लिए बनाते हैं नपुंसक
पुलिस की मानें तो आरोपी बिजली बाई किन्नरों की तादाद बढ़ाने के लिए आम लोगों को नपुंसक बनाता था। क्राइम ब्रांच के डीसीपी राजेश देव ने बताया था कि आशंका है कि किन्नर बिजली बाई कई लोगों को नपुंसक बना चुका है। पुलिस को छानबीन में यह भी पता चला कि आरोपी बिजली के खिलाफ पहले से 3 आपराधिक मामले दर्ज हैं।