नई दिल्ली, जेएनएन। दिल्ली के मुख्य निर्वाचन अधिकारी (सीईओ) डॉ. रणबीर सिंह ने कहा कि विधानसभा चुनाव अब हमारी अगली चुनौती है। जल्द ही इसकी तैयारियां शुरू कर दी जाएंगी। इन तैयारियों में लोकसभा चुनाव के अनुभवों को भी शामिल किया जाएगा। इसके लिए लोकसभा चुनावों के अनुभवों को गहराई से समझा भी जाएगा। जहां जो कदम उठाने की जरूरत होगी, उठाए जाएंगे। जिला अधिकारियों से भी इस संबंध में फीडबैक मांगा गया है ताकि विधानसभा चुनाव में और बेहतर काम किया जा सके।

सीईओ सोमवार को पत्रकारों से मुखातिब थे। इस दौरान उन्होंने स्वीकार किया कि लोकसभा चुनाव में दिल्ली का मत फीसद 2014 में हुए लोकसभा चुनावों की तुलना में तकरीबन 4 फीसद कम रहा है, लेकिन इससे पूर्व में संपन्न हुए चुनावों की तुलना में इस वर्ष का मत फीसद बेहतर रहा है। उन्होंने यह भी कहा कि हर चुनाव की अपनी अलग परिस्थितियां होती हैं। इस बार गर्मी भी कम मतदान की एक वजह हो सकती है और मतदान की तिथि पर रविवार होना भी। सप्ताहांत में बहुत से लोग बाहर घूमने निकल जाते हैं।

हालांकि सीईओ ने इस पर संतोष भी जताया कि इस पुरुष व महिला मतदाताओं की भागीदारी बराबर रही है। साथ ही उन्होंने कहा कि भविष्य में मतदाता सूची में भी महिला-पुरुष ¨लगानुपात ठीक करने के प्रयास किए जाएंगे। अभी प्रति एक हजार पुरुषों पर 844 महिला मतदाता हैं, जिसे बेहतर करने के प्रयास किए जाएंगे। साथ ही उन्होंने कहा कि आगामी विधानसभा चुनाव में मतदान फीसद में बढ़ोतरी करने के लिए और भी यथासंभव प्रयास किए जाएंगे।

दिल्ली-NCR की ताजा खबरों को पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Mangal Yadav

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस