नई दिल्ली, जेएनएन। बिहार की समस्तीपुर लोकसभा सीट से सांसद रामचंद्र पासवान काे दिल का दौरा पड़ा है। रामचंद्र को बृहस्पतिवार रात से दिल्‍ली के राम मनोहर लोहिया अस्‍पताल में भर्ती कराया गया है। उनकी गंभीर हालत को देखते हुए उन्‍हें वेंटीलेटर पर रखा गया है, जहां पर उनकी हालत गंभीर बताई जा रही है। खबर मिलने के बाद एलजेपी के नेता उनके आवास पहुंचे हैं, फिलहाल उनका इलाज किया जा रहा है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन भी समय-समय पर उनके स्वास्थ्य की जानकारी डॉक्टरों से ले रहे हैं।

बता दें कि रामचंद्र पासवान लोक जनशक्ति पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष रामविलास पासवान के छोटे भाई हैं। हार्ट अटैक की खबर सामने आने के बाद से बिहार की सियासत में खलबली मच गई है। रामचंद्र पासवान एलजेपी के समस्‍तीपुर से लगातार चार बार से सांसद हैं। रामचंद्र पासवान तीनों भाइयों में सबसे छोटे हैं। तीनों भाई और चिराग पासवान सांसद हैं।

बृहस्पतिवार देर रात बिगड़ी थी तबीयत
मिली जानकारी के मुताबिक, बृहस्पतिवार देर रात रामचंद्र पासवान को सीने में दर्द की शिकायत हुई। इस बीच ज्यादा हालत बिगड़ने पर देर रात उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया। फिलहाल डॉक्टर उनकी निगरानी कर रहे हैं। डॉक्टरों के अनुसार, उनकी हालत स्थिर है।

रामचंद्र पासवान के हॉर्ट अटैक की खबर मिलते ही उनके बड़े भाई और केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान और चिराग पासवान पूरे परिवार के साथ देर रात एक बजे अस्पताल पहुंचे। रामविलास पासवान के अलावा केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री अश्विनी चौबे भी रामचंद्र पासवान का हाल जानने के लिए आरएमएल अस्पताल पहुंचे। बताया जा रहा है कि रामचंद्र पासवान की हालत का जायजा लेने अन्य दलों के नेता भी शुक्रवार को अस्पताल पहुंच सकते हैं। 

जहां रामविलास पासवान अपने भाइयों में सबस बड़े हैं, तो रामचंद्र पासवान सबसे छोटे। बताया जाता है कि रामविलास पासवान के पिता अपने छोटे बेटे रामचंद्र पासवान को कंधे पर बैठकर स्कूल ले जाया करते थे। वहीं, रामविलास पासवान और उनके दूसरे भाई पशुपति कुमार पारस पिता ने का हाथ पकड़ गांव की पगड़ंडी और नदी पार करने का गुर सीखा। यह गांव है खगडिय़ा जिले के अलौली ब्लॉक का शहरबन्नी। 

दिल्ली-NCR की ताजा खबरों को पढ़ने के लिए यहां पर करें क्लिक

Posted By: JP Yadav

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप