नई दिल्ली, राज्य ब्यूरो। दिल्ली में शराब की होम डिलीवरी के लिए अभी और इंतजार करना पड़ेगा। सरकार ने मौजूदा आबकारी नीति को फिलहाल दो महीने के लिए बढ़ा दिया है। वित्तीय वर्ष 2022-23 की आबकारी नीति को उपराज्यपाल (एलजी) से मंजूरी मिलने में देरी की संभावना को देखते हुए यह फैसला लिया गया है।

इसी नीति के तहत शराब की होम डिलीवरी की व्यवस्था थी। नई आबकारी नीति को एलजी की मंजूरी के बाद लागू किया जाता है। दिल्ली में अब तक नए एलजी ने अपना पदभार ग्रहण नहीं किया है। दुकानें बंद नहीं हों, इसलिए आबकारी विभाग की ओर से 2021-22 की आबकारी नीति को 31 जुलाई तक बढ़ाने का आदेश जारी किया है।

शराब में मिल रही छूट पहले की तरह जारी रहेगी। दिल्ली में मौजूदा आबकारी नीति को दूसरी बार बढ़ाया गया है। आमतौर पर प्रत्येक वित्तीय वर्ष एक अप्रैल से नई आबकारी नीति को अधिसूचित करने के बाद लाइसेंस शुल्क लेकर आगे के लिए बढ़ा दिया जाता है।

दिल्ली में पहले कोरोना महामारी के चलते नीति तैयार नहीं थी। अब लाइसेंस धारकों से दो माह का शुल्क लेकर आगे दुकान खोलने की मंजूरी दे दी जाएगी।

Edited By: Geetarjun Gautam