नई दिल्ली [रीतिका मिश्रा]। दिल्ली अभिभावक संघ ने दिल्ली के सरकारी स्कूलों में खुले कोविड-19 जांच केंद्रों को तुरंत बंद करने की मांग उठाई। अभिभावक संघ ने इस संबंध में उपराज्यपाल अनिल बैजल और मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को पत्र लिखकर स्कूलों में खुले इन जांच केंद्रों को बंद कर मोहल्ला क्लिनिक में खोलने की मांग की। दिल्ली अभिभाक संघ की अध्यक्ष अपराजिता गौतम ने बताया कि उन्हें लगातार अभिभावकों से इन केंद्रों को बंद करवाने को लेकर शिकायतें मिल रही थी।

उन्होंने बताया कि अंबेडकर नगर सेक्टर-5 स्थित एक सरकारी स्कूल में आज भी कोरोना की जांच हो रही है जबकि स्कूल के सामने ही डिस्पेंसरी है और उसी रोड पर आगे चलकर एक अस्पताल भी है। उन्होंने कहा कि स्कूल में रोजाना बहुत लोग जांच कराने जा रहे हैं और सभी कोविड पाॅजिटिव लोग स्कूल के पूरे मैदान में खड़े रहते हैं। स्कूल में अंदर आने का भी एक ही मुख्य द्वार है जिसे रस्सियों द्वारा बांटा गया है।

इससे शिक्षकों और छात्रों की सुरक्षा कैसी सुनिश्चित की जा सकती है। वहीं, स्कूल में नौवीं और 10वीं के पेपर भी चल रहे हैं। जिस दिन पेपर नहीं होता उस दिन छात्रों को फोन कर बुलाया जाता है। उन्होंने कहा कि ऐसे में अगर किसी बच्चें को कुछ हो जाता है तो क्या सरकार इसकी जिम्मेदारी लेगी।

अपराजिता ने मुख्यमंत्री और उपराज्यपाल को लिखे पत्र में कोरोना जांच केंद्रो के साथ स्कूलों को भी बंद करने की मांग की। उन्होंने कहा कि दिल्ली में कोरोना के मामने बहुत तेजी से बढ़ रहे हैं ऐसे में स्कूलों को बंद ही किया जाना चाहिए। साथ ही सरकार को सभी छात्रों और शिक्षकों की भी जांच करानी चाहिए। वहीं, जो पाॅजिटिव आते हैं उनके बारे में अन्य लोगों को भी जानकारी देनी चाहिए ताकि अगर उनके संपर्क में कोई आया हो तो वो सतर्क हो सके।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप