नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। कोरोना संक्रमण के प्रसार पर रोकथाम के साथ अब जिला प्रशासन मतदाता सूची संशोधन कार्य को भी सफलतापूर्वक करने की दिशा जुट चुका है। अच्छी बात ये है कि पूरे एहतियात के साथ लोग भी मतदाता पहचान पत्र में संशोधन कराने व नए पहचान पत्र बनवाने के लिए आगे आ रहे है। शनिवार को दक्षिण-पश्चिमी जिले में सात विधानसभा क्षेत्र जिसमें द्वारका, नजफगढ़, मटियाला, विकासपुरी, पालम, उत्तम नगर व बिजवासन के अंतर्गत 245 स्कूलों में आयोजित शिविर में 478 लोगों ने फॉर्म भरकर जमा किए। इसमें 377 मतदाताओं ने फॉर्म-6, तीन मतदाताओं ने फॉर्म-7, 66 मतदातओं ने फॉर्म-66 और 32 मतदाताओं ने फॉर्म-8ए भरा है।

वहीं पश्चिमी जिले की बात करें तो यहां सात विधानसभा क्षेत्र जिसमें नांगलोई जट, मोती नगर, मादीपुर, राजौरी गार्डन, हरि नगर, तिलक नगर व जनकपुरी के अंतर्गत 256 स्कूलों में शिविर का आयोजन किया गया। जिसमें 269 लोगों ने फाॅर्म भरकर जमा किए। इसमें 171 मतदाताओं ने फॉर्म-6, नौ मतदाताओं ने फॉर्म-7, 67 मतदाताओं ने फॉर्म-8 और 22 मतदाताओं ने फॉर्म-8ए भरा। रविवार को भी इन तमाम स्कूलों में शिविर का आयोजन किया गया।

बता दें कि 15 दिसंबर तक मतदाता पहचान पत्र में संशोधन व नए पहचान पत्र बनाने के लिए आवेदन देने का अंतिम दिन है। ऐसे में दोनों जिलों में 12 और 13 दिसंबर को भी इन स्कूलों में शिविर का भी आयोजन किया गया जाएगा। इन शिविर के अलावा नजदीकी मतदाता केंद्रों पर जाकर भी मतदाता फाॅर्म भर सकते है। साथ ही वोटर हेल्पलाइन एप व इलेक्शन कमिशन की वेबसाइट पर भी मतदाता घर बैठे-बैठे फॉर्म भर सकते है। किसी भी प्रकार की दिक्कत आने पर वे 1950 हेल्पलाइन नंबर पर संपर्क कर परेशानी को साझा कर सकते है।

दक्षिण-पश्चिमी जिले में एसडीएम इलेक्शन अनुपमा चक्रवर्ती ने बताया कि स्कूलों में आयोजित इन शिविरों का निरीक्षण किया जा रहा है, ताकि इस बात का जायजा किया जा सके कि बूथ लेवल ऑफिसर अपना कार्य ठीक से कर रहे है या नहीं। इसके लिए दोनों सेक्शन ऑफिसर प्रेम कुमार सिंह व मुकेश कुमार शर्मा, वरिष्ठ सहायक नरेंद्र कुमार राठी, अतिरिक्त वरिष्ठ सहायक गंगा सहाय, सेक्शन ऑफिसर सहायक कुलदीप व रोल आउट स्पोर्ट राहुल कुमार रोशन, सिविल डिफेंस वॉलेंटियर्स जयदेव व नितेश की भी ड्यूटी लगा दी गई है। साथ ही अधिक से अधिक मतदाता इस कार्यक्रम में अपनी भागीदारी सुनिश्चित करें इसके लिए निगम के करीब-करीब सभी ऑटो टिपर व स्कूलों के गेट पर बैनर लगा दिए गए है।

ऑटो टिपर में लगे साउंड सिस्टम के माध्यम से घर-घर तक संदेश पहुंचाने की मुहिम को शुरू कर दिया गया है। सातों विधानसभा क्षेत्र में ई-रिक्शा के माध्यम से मुनादी कराई जा रही है। इसके अलावा फेसबुक व ट्विटर के माध्यम से लोगों तक कार्यक्रम की सूचना पहुंचाने का प्रयास जारी है। खास बात ये है कि जिले के प्रयास रंग ला रहे है, दिल्ली के सभी 11 जिलों में शनिवार को आयोजित शिविर में फॉर्म भरने के लिए आगे आने वाले मतदाताओं की संख्या दक्षिण-पश्चिमी जिले में सबसे अधिक रही।

वहीं पश्चिमी जिले में एसडीएम वीके त्यागी ने बताया कि कोरोना संक्रमण के बढ़े मामले व मृत्युदर के कारण अभी मतदाताओं का रुझान इस ओर कम है, लेकिन प्रशासन पूरी कोशिश कर रहा है। पर शनिवार को आयोजित शिविर में पहले दिन फॉर्म भरने के लिए आगे आने वाले मतदाताओं की संख्या अच्छी रही, उम्मीद है आगे आयोजित होने वाले शिविरों में मतदाताओं का अच्छा रुझान देखने को मिलेगा। विशेषकर युवा मतदाता, जो 1 जनवरी 2021 को 18 वर्ष के हो गए है।

Coronavirus: निश्चिंत रहें पूरी तरह सुरक्षित है आपका अखबार, पढ़ें- विशेषज्ञों की राय व देखें- वीडियो

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस