नई दिल्ली [संतोष कुमार सिंह]। भारतीय रेलवे लगातार अपने यात्रियों के लिए सुविधाओं और सहूलियत में इजाफा करता रहा है। इस कड़ी में अब रेल यात्री कम किराये में भी एसी कोच में सफर कर सकेंगे। भारतीय रेलवे इसकी तैयारी में जुट गया है। दरअसल, ट्रेन के वातानुकूलित (एसी) श्रेणी कोच में सफर करने वाले यात्रियों को अब तीन की जगह चार विकल्प मिलेंगे। अभी तक राजधानी व लंबी दूरी की अन्य एक्सप्रेस ट्रेनों में फस्र्ट एसी, सेकंड एसी व थर्ड एसी कोच लगाए जाते हैं। जल्द ही इन ट्रेनों में इकोनामी एसी क्लास के कोच जोड़े जाएंगे। इस नई श्रेणी के कोच के लिए कोड तय कर लिया गया है, जल्द ही यात्रियों को इसमें सफर की सुविधा मिलेगी।

आरक्षण के लिए भारतीय रेलवे खानपान एवं पर्यटन निगम (Indian Railway Catering and Tourism Corporation) की वेबसाइट व मोबाइल फोन ऐप पर और आरक्षण चार्ट पर इसे 3 ई कोड से इंगित किया जाएगा। वहीं, कोच के बाहरी हिस्से पर इसकी पहचान के लिए एम लिखा जाएगा। फर्स्ट एसी कोच पर एच, सेकंड एसी कोच ए और थर्ड एसी कोच पर बी लिखा रहता है। इस कोच में ज्यादा यात्री सफर कर सकेंगे और इसका किराया भी थर्ड एसी से कम होगा। रेलवे अधिकारियों का कहना है कि यह कोच अत्याधुनिक सुविधाओं से सुसज्जित है। इसके बावजूद बनाने में कम खर्च आया है।

आरसीएफ कपूरथला में तैयार हो रहे हैं कोच

रेल कोच फैक्ट्री (आरसीएफ) कपूरथला में ये कोच तैयार किए जा रहे हैं। पिछले माह 15 कोच का एक रैक तैयार किया गया है। इन्हें उत्तर पश्चिम रेलवे, उत्तर मध्य रेलवे और पश्चिम रेलवे में भेजा गया है। वहीं, इस वित्तीय वर्ष के अंत तक 248 कोच बनाने का लक्ष्य है।

नई सुविधा

  • ट्रेनों में लगेंगे इकोनामी एसी क्लास कोच
  • आरक्षण के लिए वेबसाइट पर 3-ई कोड से इंगित किया जाएगा
  • 2.75 करोड़ रुपये लागत आई है इकोनामी एसी कोच तैयार करने में
  • 3.85 करोड़ रुपये की लागत आती है थर्ड एसी कोच को बनाने में

ये भी पढ़ेंः ट्रेन में सफर के दौरान न करें ये गलती, 16 दिन में 22,410 यात्रियों से वसूला 1.17 करोड़ रुपये जुर्माना; 175 की हुई मजिस्ट्रेट के सामने पेशी

Kisan Andolan: बृहस्पतिवार को कभी भी बंद किए जा सकते हैं ये 7 मेट्रो स्टेशन, वजह भी जानिये

 

Edited By: Jp Yadav