नई दिल्ली [संजीव गुप्ता]। दिल्ली में अब मानसून देर से नहीं आएगा। इसके आगमन की जो तिथि तय होगी, उसी के अनुरूप दो तीन दिन के अंतराल में यह राजधानी दिल्ली में दस्तक दे देगा। इसी तरह से इसकी विदाई भी अनिश्चित नहीं होगी, बल्कि वह भी तय शेड्यूल से होगी। जी हां, अगले साल से राजधानी में मानसून के आने और जाने की तिथियां बदलने पर गंभीरता से विचार किया जा रहा है।

...तो इसलिए पड़ी बदलाव की जरूरत

जानकारी के मुताबिक, दशकों से दिल्ली में मानसून के आगमन की तिथि 29 जून और वापसी की तारीख 20 सितंबर तय है, लेकिन हर साल ही इसमें खासा अंतराल देखने को मिल रहा है। अमूमन तो उक्त दोनों तारीखें आगे ही खिसक रही हैं। हालांकि मौसम विज्ञानियों के मुताबिक दो चार दिन का अंतराल स्वाभाविक है, लेकिन अगर यह सप्ताह से आगे तक पहुंचने लगे तो उसमें बदलाव अनिवार्य हो जाता है।

मौजूदा तिथियों के मुकाबले राजधानी में देर से होती है दस्तक

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (India Meteorological Department) के अधिकारियों की मानें तो यह स्थिति भी हालांकि केवल दिल्ली ही नहीं, बल्कि देश भर में देखने को मिल रही है। इसी के मद्देनजर कुछ माह पूर्व केंद्रीय भूविज्ञान मंत्रालय (Union Ministry of Geology) ने पारिस्थितिकी विज्ञानी डॉ. माधव गाडगिल की अध्यक्षता में एक विशेषज्ञ समिति का गठन किया था। यह समिति अपनी रिपोर्ट में यही आंकलन कर रही है कि जलवायु परिवर्तन सहित किन किन कारणों से और देश के किन किन हिस्सों में मानसून की पूर्व निर्धारित तिथियों में कितना बदलाव आया है।

आने और जाने को लेकर अगले वर्ष से बदली जाएंगी तारीखें

बताया जा रहा है कि यह रिपोर्ट अगले कुछ माह में आ जाएगी। रिपोर्ट की सिफारिशों के आधार पर ही विभिन्न स्थानों पर मानसून के आगमन और वापसी की तिथियों में बदलाव किया जाएगा। बताया जाता है कि दिल्ली में भी पिछले एक दशक के दौरान मानसून की पूर्व निर्धारित तिथियों में बदलाव देखा जा रहा है, लेकिन इन तिथियों में बदलाव का आधार उक्त समिति की रिपोर्ट ही बनेगी। संभावना जताई जा रही है कि दिल्ली में मानसून के आगमन की तारीख जुलाई के प्रथम सप्ताह और वापसी की तारीख सितंबर माह के अंतिम सप्ताह में से तय की जा सकती है।

2014 से 2019 के बीच दिल्ली में मानसून का आगमन

वर्ष                   जिस तिथि पर दी दस्तक

2014               03 जुलाई

2015               25 जून

2016               02 जुलाई

2017               02 जुलाई

2018               28 जून

2019               05 जुलाई

2014 से 2018 के बीच दिल्ली से मानसून की विदाई

वर्ष                          जिस तिथि पर मानसून लौटा

2014                       28 सितंबर

2015                       29 सितंबर

2016                       08 अक्टूबर

2017                       01 अक्टूबर

2018                       30 सितंबर

दिल्ली-NCR की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां पर करें क्लिक

मंत्रालय स्तर पर होगा अंतिम निर्णय

कुलदीप श्रीवास्तव (प्रमुख, प्रादेशिक मौसम विज्ञान केंद्र) का कहना है कि दिल्ली में मानसून के आगमन और विदाई की तिथियों में पिछले कुछ सालों में थोड़ा बबहुत बदलाव तो देखा ही जा रहा है। हालांकि इसकी औपचारिक तिथियों में कोई भी बदलाव मंत्रालय के स्तर पर ही होगा। 

अगले साल से मान्य होगा बदलाव

डॉ. एम महापात्रा (महानिदेशक, भारतीय मौसम विज्ञान विभाग) का कहना है कि मानसून की तिथियों में परिवर्तन को लेकर गाडगिल समिति आंकलन कर रही है। समिति की रिपोर्ट की सिफारिशों के आधार पर ही जहां जरूरत होगी, मानसून की तिथियां बदली जाएंगी। यह बदलाव अगले साल से मान्य हाेगा।

दिल्ली-NCR की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां पर करें क्लिक

Posted By: JP Yadav

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस