नोएडा, जेएनएन। बिंदास सिंगर और डांसर Sapna Choudhary की दीवानगी जग जाहिर है और उनकी यह दीवानगी लोगों में इस कदर है कि सपना के गाने के बगैर कोई भी पार्टी-समारोह अधूरा सा रहता है। सपना चौधरी जब गाने पर डांस शुरू करती है तो हर कोई झूम उठता है मगर दिल्‍ली में इस बार सपना के फैन उनके गाने नहीं बजने के कारण गुस्‍से में आ गए और जमकर तोड़फोड़ कर दी। बता दें कि छह जनवरी को दिल्‍ल के तालकटोरा स्‍टेडियम में गजब का समां बांध दिया था। उस गाने का नशा अब तक लोगों को झूमने पर मजबूर रहा है। वहीं दिल्ली से सटे उत्तर प्रदेश के नोएडा में सामने आए एक मामले में सपना चौधरी का गाना 'तेरा आख्या का ये काजल...' नहीं बजाने पर जमकर हंगामा हुआ।

पुलिस ने चार लोगों को किया गिरफ्तार
इतना ही नहीं,  डीजे द्वारा गाना नहीं बजाने पर पार्टी में आए लोगों ने रेस्तरां मालिक और वेटर का सिर फोड़ दिया। वहीं, पुलिस ने कार्रवाई करते हुए चार लोगों को गिरफ्तार किया है। 

गैलेरिया मॉल में हुई मारपीट 
पूरा मामला रविवार रात सेक्टर-38ए स्थित गार्डन गैलेरिया मॉल में एक पार्टी का है। जानकारी के अनुसार, ग्रेनो वेस्ट की गौड़ सिटी सोसायटी निवासी चंद्रशेखर चौहान ने शनिवार को पत्नी का जन्मदिन मनाने के लिए गार्डन गैलेरिया मॉल में बने नामी रेस्तरां को बुक किया था।

डीजे ने कहा नहीं है सपना का गाना 
रात 9 बजे के बाद जन्म दिन पर जश्न शुरू हुआ तो लोग डीजे के गानों पर नाचने लगे। कुछ देर बाद पार्टी में डांस कर रहे लोगों ने सपना चौधरी के सुपरहिट गाने 'तेरी आख्या को यो काजल' बजाने की मांग की। इस पर डीजे ने कहा कि उसके पास यह गाना ही नहीं है। इस पर लोगों ने सपना चौधरी का ही दूसरा गाना बजाने की मांग की। मना करने पर पार्टी कर रहे मेहमान भड़क गए और हंगामा शुरू कर दिया।

 

नशे में फोड़ दी शराब की बोतल 
हंगामा होते देख रेस्त्रां मालिक हरीश व एक वेटर ने हस्तक्षेप करने की कोशिश की, लेकिन नशे में लोगों ने उनके सिर पर शराब की बोतल फोड़ दी। सूचना मिलने पर पुलिस ने चंद्रशेखर चौहान, उनके दोस्त सोनू पंडित, विकास मिश्रा और अगम शर्मा को धारा- 151 में गिरफ्तार कर सिटी मैजिस्ट्रेट के सामने पेश किया, जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया। 

मारपीट करने वालों को भेजा जेल 
वहीं, एक अन्य आरोप यह है कि खाना खराब बता कर वेटरों के साथ बदसलूकी करते हुए मारपीट की थी। उन्होंने एक वेटर के सिर पर गिलास फोड़ दिया, जबकि एक अन्य वेटर को कुर्सी से मारा। पब के मैनेजर विवेक दीक्षित का कहना है कि पब में एक महिला के जन्मदिन पार्टी थी। इस पार्टी में कुछ महिलाओं के साथ सोनू पंडित व विकास मिश्र निवासी खोड़ा कॉलोनी, चंद्रशेखर चौहान व अगम शर्मा निवासी गौड़ सिटी और सिंह राजन निवासी चौड़ा रघूनाथपुर शामिल हुए थे। पार्टी के दौरान उन्होंने शराब पी। रात करीब 11 बजे शराब के नशे में वे खाना खराब बता कर कर्मचारियों के साथ बदसलूकी करने लगे।

वेटर हुआ घायल
कर्मचारियों ने गाली देने का विरोध किया। जिस पर गुस्साए युवकों ने मारपीट कर वेटर शिवम और हरि को गंभीर रूप से घायल कर दिया। पब मालिक सागर वर्मा का कहना है कि युवकों ने जमकर तोड़फोड़ की है। कई कुर्सियां और मेज तोड़ दिए हैं। करीब एक घंटे तक युवकों ने पब में उत्पात मचाया। इस दौरान भगदड़ जैसा माहौल रहा। पुलिस के आने के बाद ही सभी शांत हो सके। तोड़फोड़ से पब का दो लाख रुपये से अधिक का नुकसान हुआ है।

पुलिस सूत्रों का कहना है कि सिफारिश करने वालों में एक पूर्व आइएएस और भाजपा के एक वरिष्ठ नेता के साथ एक संगठन के पदाधिकारी भी शामिल हैं। दबाव के बावजूद कोतवाली के प्रभारी इंस्पेक्टर उदय प्रताप सिंह ने सभी का चालान कर दिया। इस दौरान इतना दबाव डाला गया कि युवकों को कुछ देर के लिए रास्ते में ही रोकना पड़ा।

दिल्ली-एनसीआर की महत्वपूर्ण खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: JP Yadav

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप