नई दिल्ली/रेवाड़ी (जेएनएन)। हरियाणा के रेवाड़ी में 19 वर्षीय छात्रा के साथ सामूहिक दुष्कर्म के मामले में तीखी आलोचना का सामना कर रही पुलिस को रविवार को बड़ी कामयाबी हाथ लगी। सामूहिक दुष्कर्म के मुख्य आरोपियों में से एक नीशु को एडीजीपी की स्पेशल टीम व रेवाड़ी सीआइए ने मिलकर गिरफ्तार कर लिया है। 

एक मुख्य आरोपी गिरफ्तार
नाहड़ रेस्ट हाऊस में पत्रकारों को गिरफ्तारी से संबंधित जानकारी देते हुए एसआइटी प्रमुख व नूह की एसपी नाजनीन भसीन ने बताया कि पकड़ा गया आरोपी 12 सितंबर को हुई सामूहिक दुष्कर्म की वारदात में शामिल था।

कनीना बस स्टैंड से किडनैप करने से लेकर छात्रा के साथ सामूहिक दुष्कर्म में भी आरोपी शामिल रहा था। वारदात को अंजाम देेेने के बाद वह फरार हो गया। पीड़िता ने उक्त आरोपी का नाम एफआइआर में नामजद कराया था।

पुलिस को मिली पुख्ता जानकारी 

एसपी नाजनीन ने बताया कि हमारी अलग-अलग टीमें आरोपियों को पकड़ने में लगी हुईं थीं। रविवार की शाम एडीजीपी की स्पेशल टीम के इंचार्ज इंस्पेक्टर दीपक व सब इंस्पेक्टर अनिल तथा रेवाड़ी सीआइए इंचार्ज विद्या सागर को एक आरोपी के बारे में पुख्ता जानकारी मिली। उसके बाद उक्त तीनों ही टीम के इंचार्ज ने संयुक्त कार्रवाई करते हुए चंद मिनटों में ही वारदात के मुख्य आरोपियों में शामिल एक आरोपी को धर दबोचा।

पुलिस को सूचना नहीं देने का आरोप 

एसपी नाजनीन ने बताया कि इस घटनाक्रम की जानकारी एक आरएमपी डॉक्टर लूखी निवासी संजीव कुमार को थी। संजीव पर जघन्य अपराध की सूचना पुलिस को नहीं देने का आरोप है। उसे भी सोमवार को कोर्ट में पेश किया जाएगा। उसके खिलाफ आईपीसी की धारा 118 के तहत केस दर्ज कर किया गया है। 

कार्रवाई में ज्यादा विश्वास रखता हूं

रेवाड़ी सामूहिक दुष्कर्म मामले में एक मुख्य आरोपी की गिरफ्तारी के बाद हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि 'मैं भाषण बाजी में कम व कार्रवाई में ज्यादा विश्वास रखता हूं। ऐसे संवेदनशील मामलों में विपक्ष को भी जिम्मेदारी और धैर्य से काम लेना चाहिए। सनसनीखेज बयान देकर पीड़ित परिवार की पीड़ा को और नहीं बढ़ाना चाहिए।'

राजनीति चमकाने के लिए ऐसी घटनाओं का इस्तेमाल गलत

सीएम मनोहर लाल ने कहा कि 'राजनीति चमकाने के लिए ऐसी गंभीर घटनाओं का इस्तेमाल गलत है। मुख्य साजिशकर्ता को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। बाकी दो भी जल्द ही कानून के शिकंजे में होंगे। अपराधियों को पनाह देने वालों के खिलाफ भी जल्द सख्त कार्रवाई होगी। अपराध और अपराधियों को किसी भी सूरत में बर्दाश्त नहीं किया जायेगा।'

बच गई सरकार की नाक 

तीन में से एक मुख्य आरोपी की गिरफ्तारी से सरकार की नाक बच गई है। विपक्ष ने इस मुद्दे को लेकर सरकार की नाक में दम किया हुआ था। यहां तक की पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा सहित विपक्ष के कई नेताओं ने मुख्यमंत्री मनोहर लाल से इस्तीफा मांगना भी शुरू कर दिया था।

रेवाड़ी सामूहिक दुष्कर्म: एसआइटी को मिली बड़ी कामयाबी, मुख्य आरोपी नीशु गिरफ्तार

गिरफ्त से बाहर हैं दो मुख्य आरोपी

अभी भी दो मुख्य आरोपी पुलिस की गिरफ्त से बाहर है, लेकिन रविवार को मिली कामयाबी ने वर्दी की लाज बचाने का काम किया है। इस पूरे घटनाक्रम से यह भी साबित हो गया है कि पुलिस की सुस्ती जहां वर्दी को दागदार बना देती है वहीं पुलिस की सुस्ती वर्दी का सम्मान बढ़ा देती है। इस प्रकरण में पुलिस के यही दोनों रूप देखने को मिले।

यह भी पढ़ेंः US युवती से यौन शोषण की कोशिश का मामला गरमाया, होटल के कमरे में की थी गंदी हरकत

यह भी पढ़ेंः रेवाड़ी सामूहिक दुष्कर्म: SIT को मिली बड़ी कामयाबी, मुख्य आरोपी नीशु गिरफ्तार

Posted By: Amit Mishra