नई दिल्ली, ऑनलाइऩ डेस्क। तीन कृषि कानूनों को खत्म किए जाने की मांग को लेकर 26 जनवरी को किसानों का किसान गणतंत्र परेड निकालना तय था। इसके लिए रूट भी पहले से तय किए गए थे मगर तय दिन किसानों ने किसी की नहीं मानी, सड़क से लेकर लाल किले तक जमकर उत्पात मचाया। दिल्ली की सड़कों पर नियमों की धज्जियां उड़ाई, पुलिस के साथ हाथापाई की। लाल किले पर कब्जा करके झंडा फहराया। उपद्रवियों ने सुबह से लेकर देर शाम तक दिल्ली-एनसीआर के इलाके में पूरी अराजकता दिखाई। 

पुलिस के साथ हुई मीटिंग के बाद तय हुआ था कि किसान गणतंत्र दिवस के दिन दोपहर 12 बजे परेड के बाद ट्रैक्टर मार्च निकालेंगे। आपसी सहमति के बाद परेड निकाली जानी थी, पुलिस प्रशासन भी ट्रैक्टर परेड को सकुशल कराने के लिए तैयारी के साथ लगा हुआ था। तस्वीरों में देखें किसानों के भेष में उपद्रवियों ने ट्रैक्टर रैली को निकालने के लिए सिंघु बॉर्डर, टीकरी बॉर्डर, यूपी गेट और नोएडा इंट्री पॉइंट पर किस तरह से उत्पात मचाया।   

लाल किला के बाहर तक पहुंच गए किसान, काफी संख्या में रही उपद्रवियों की संख्या। इसमें कुछ ही किसान थे बाकी सब उपद्रव कर रहे थे। 

 

आइटीओ पर किसानों को रोकने के लिए पुलिस ने आंसू गैस के गोले छोड़े। 

आइटीओ पर पुलिस और उपद्रवियों के बीच हुई भिड़त, काफी संख्या में किया नुकसान। 

आइटीओ पर डंडे और तलवार के साथ नजर आए उपद्रवी, पुलिस के साथ की मारपीट।

 नोएडा बॉर्डर पर पैदल ही काफी संख्या में निकले। 

नांगलोई में किसानों के ट्रैक्टर मार्च को रोकने के लिए महिला पुलिसकर्मी भी सड़क पर बैठ गई। उसके बाद किसानों ने पुलिस अधिकारियों से रास्ता खोलने के लिए कहा। 

 

उपद्रवियों ने आइटीओ पर दिल्ली परिवहन निगम की बस में की तोड़फोड़, पुलिस ने उपद्रवियों को रोकने के लिए बस को खड़ा किया था। 

इस अंदाज में भी उपद्रवी ट्रैक्टर रैली में देखे गए। 

एक-एक ट्रैक्टर पर 10-10 की संख्या में लदकर रैली में शामिल हुए। 

रिंग रोड पर ट्रैक्टरों के साथ-साथ पैदल चलने वालों की भी संख्या कम नहीं दिखी। 

उपद्रवियों ने रास्ता रोकने के लिए लगाए गए बैरिकेड को अपने ट्रैक्टरों से बांधकर उसे खींचकर हटा दिया। 

किसान पुलिस की ओर से लगाए गए बैरिकेड को तोड़कर वहां से अपना ट्रैक्टर निकालकर ले जाते हुए। 

संजय गांधी ट्रांसपोर्ट नगर राष्ट्रीय राजमार्ग-1 पर दोनों ओर ट्रैक्टरों की कतार, काफी संख्या में पुलिस रही मौजूद। 

बुराड़ी के पास रिंग रोड पर ट्रैक्टर परेड। 

किसानों को रोकने के लिए सूरजमल मेट्रो स्टेशन के पास पुलिस ने चलाएं टियर गैस। 

गुरुग्राम के  फरुखनगर अनाज मंडी से किसान 300 की संख्या में ट्रैक्टर रैली के लिए रवाना होते हुए।  

नांगलोई में भारी संख्या में जमा थे किसान, पुलिस के सामने मौजूद। 

एनएच-9 पर ट्रैक्टरों से जाते हुए किसान। बाद में इनमें शामिल उपद्रवियों ने जमकर राजधानी में उत्पात मचाया। 

ये भी पढ़ेंः Kisan Tractor Rally: दिल्ली के इन मार्गों पर जानें से बचें, ट्रैफिक पुलिस ने जारी की एडवाइजरी

ये भी पढ़ेंः दिल्ली में कई जगहों पर उग्र हुए किसान, मुकरबा चौक पर आंसू गैस के गोले, दिलशाद गार्डन के पास लाठी चार्ज

  kisan Tractor Rally: नांगलोई में ट्रैक्टर मार्च को रोकने के लिए महिला पुलिसकर्मी सड़क पर बैंठी

Coronavirus: निश्चिंत रहें पूरी तरह सुरक्षित है आपका अखबार, पढ़ें- विशेषज्ञों की राय व देखें- वीडियो

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप