नई दिल्ली, जेएनएन। दिल्ली में लोगों के वोट काटे जाने के मामले को आम आदमी पार्टी (AAP) ने मुद्दा बनाया हुआ है। बृहस्पतिवार को मुख्यमंत्री केजरीवाल ने इस मामले को लेकर भाजपा पर हमला बोला। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी जी ने दिल्ली में हार के डर से 30 लाख वोट कटवा दिए हैं, जिनमें 15 लाख वोट पूर्वांचलियों के हैं।

उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा पूर्वाचलियों से नफरत करती है। विकासपुरी में सीवर लाइन के उद्घाटन के अवसर पर केजरीवाल ने कहा कि भाजपा ने दिल्ली में रहने वाले 15 लाख पूर्वांचलियों के वोट कटवा दिए हैं।

करीब डेढ़ महीने पहले किसी ने आकर मुझे जानकारी दी कि दिल्ली में भाजपा पूर्वाचलियों, वैश्यों और मुसलमानों के वोट कटवा रही है। जब मैंने इसकी जाच कराई तो पता लगा कि करीब 15 लाख पूर्वाचलियों, 4 लाख वैश्यों और 8 लाख मुसलमानों के वोट भाजपा ने कटवा दिए।

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी शुरू से ही उत्तर प्रदेश और बिहार के लोगों के खिलाफ है। अभी थोड़े दिन पहले गुजरात में भाजपा वालों ने पूर्वांचल के लोगों को मार-मार के भगाया। उसी तरह से दिल्ली के तुगलकाबाद, संगम बिहार में भी भाजपा ने पूर्वांचलियों पर हमले किए।

भाजपा वाले दिल्ली से भी पूर्वांचलियों को भगाना चाहते हैं। उन्होंने भाजपा को चेतावनी दी है कि भाजपा के लोग पूर्वांचलियों की तरफ आख उठा कर भी न देखे।

मुख्यमंत्री ने कहा- 'वैश्यों के वोट भाजपा इसलिए कटवा रही है, क्योंकि पिछले तीन साल में इन्होंने नोटबंदी, जीएसटी से व्यापारी को परेशान किया। सारे व्यापारी दुखी हैं। भाजपा वालों ने करीब 30 लाख वोट कटवाए हैं। मैं हर कीमत पर ये सारे वोट बनवाकर रहूंगा।'