नई दिल्ली, राज्य ब्यूरो। एक तरफ जहां देश भर में 2 अक्टूबर को सफाई को अपनाने के संकल्प लिए गए व जगह-जगह आयोजन हुए। ऐसे में दिल्ली की केजरीवाल सरकार की ओर से स्वच्छता को बढ़ावा देने को लेकर कोई आयोजन नहीं हुआ। गांधी जी के विचारों को अपनाने की बात करने वाले मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सिर्फ गांधी जी और लालबहादुर शास्त्री को जन्मदिन पर नमन कर औपचारिकता ही निभाई।

केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा कि गांधी जी और लाल बहादुर शास्त्री जी को नमन। दोनों के जीवन से प्रेरणा मिलती है। उनके विचारों को अपने जीवन में ढालना है।

दिल्ली में तीनों नगर निगम व नई दिल्ली नगरपालिका परिषद में स्वच्छता अभियान चलाने के लिए संकल्प लिए गए हैं, लेकिन दिल्ली सरकार की ओर से इस तरह का एक भी आयोजन नहीं हुआ जो गांधी जी को समर्पित होता। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल स्वयं दिल्ली शहरी आश्रय सुधार बोर्ड (डूसिब) के चेयरमैन हैं।

डूसिब पर ही दिल्ली के 685 जेजे कॉलोनियो के 15 लाख से अधिक लोगों को शौचालय आदि उपलब्ध कराने की जिम्मेदारी है। डूसिब की ओर से भी राष्ट्रपिता को समर्पित कोई कार्यक्रम नहीं आयोजित किया गया, जिसमें दिल्ली सरकार के मंत्री या खुद मुख्यमंत्री शामिल हुए हो।

डूसिब के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि वे लोग साफ-सफाई के लिए बहुत कार्य कर रहे हैं। वास्तव मे उनके पास ही वह जनता है जिसे सफाई के मामले में अधिक जागरूक करने की जरूरत है। अधिकारी का कहना है कि 2 अक्टूबर के मद्देनजर केजरीवाल सरकार की ओर से किसी कार्यक्रम के आदेश जारी नहीं हुए थे। 

यह भी पढ़ें: अरविंद मुझसे पूछेगा नहीं यदि पूछेगा तो कहूंगा पांच कदम दूर रहो: अन्ना हजारे

यह भी पढ़ें: दिल्ली सरकार के समारोह से अधिकारियों ने बनाई दूरी, सीएम ने प्रमुख सचिव को किया फोन

Posted By: Amit Mishra

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप