नई दिल्ली, एएनआइ। जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय (JNU) में हुई हिंसा के मामले में दिल्ली पुलिस आज यानी सोमवार को जेएनयू छात्रसंघ अध्यक्ष आईशी घोष के अलावा पंकज भास्कर विजय से पूछताछ की कर रही है। पूछताछ पूरी होने के बाद पुलिस उनके बयान दर्ज करेगी। इस बीच गृह सचिव अजय कुमार भल्ला दिल्ली पुलिस आयुक्त आमुल्य पटनायक से मिलने पहुंचे है। जहां पर वह दिल्ली में कानून व्यवस्था को लेकिन विचार-विमर्श करेंगे। कयास लगाए जा रहें कि इस मामले में नया खुलासा हो सकता है। गौरतलब है कि पांच जनवरी को जेएनयू कैंपस में कुछ नकाबपोश ने डंडो से हमला किया था। इसके बाद काफी संख्या में छात्र घायल हो गए थे, जिन्हें एम्स के ट्रामा सेंटर में भर्ती कराया गया था।

घायलों छात्रों से मिलने पहुंची थी प्रियंका गांधी

उसी दौरान कांग्रस महासचिव प्रियंका गांधी घायल छात्रों से मिलने के लिए अस्पताल में पहुंचे थे। इस पूरे मामले पर जांच कमेटी भी बिठाई गई थी। वहीं ज्यादातर अधिकारियों ने इस मामले पर निंदा व्यक्त की थी। वहीं दिल्ली पुलिस आयुक्त आमुल्य पटनायक गृह सचिव से मिलने के लिए गए हैं। जहां जेएनयू पर चर्चा होने की संभावना है।

पुलिस ने जांच के बाद किया था ये खुलासा

एसआइटी ने शनिवार को वामपंथी छात्र संगठनों से जुड़े सात व दक्षिणपंथी छात्र संगठनों से जुड़े दो छात्रों को पूछताछ में शामिल होने के लिए सीआरपीसी की धारा 160 के तहत नोटिस भेजा था। एसआइटी ने शुक्रवार को इन सभी के फोटो जारी करते हुए दावा किया था ये लोग पांच जनवरी को जेएनयू परिसर में हुई हिंसा में शामिल थे। 

देशभर में हुए प्रदर्शन

जेएनयू में हुई हिंसा पर देशभर में प्रदर्शन हुए थे। इस दौरान देश के अलग-अलग राज्यों में छात्रों के समर्थन में लोगों ने विरोध जताया था। यही नहीं अभिनेत्री दीपिका पादुकोण भी जेएनयू छात्रसंघ अध्यक्ष आईशी घोष से मिलने जेनएनयू पहुंची थी। जिसके बाद सोशल मीडिया पर उन्हें बॉयकट करने का हैश टैग ट्रेंड हुआ था। दरअसल, दीपिक की अगली फिल्म छपाक रिलीज होनी वाली थी तो इसी दौरान उसको लेकर उनके इस कदम को अपनी अगली फिल्म छपाक की प्रमोशनल एक्टिविटी बताया जा रहा था।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस