नई दिल्ली/नोएडा/गाजियाबाद/सोनीपत, जागरण डिजिटल डेस्क। Delhi Rain ALERT: दस्तक के बाद ढाई महीने तक बारिश के लिए तरसाने वाला मानसून 2022 (Monsoon) दिल्ली, पश्चिमी उत्तर प्रदेश और हरियाणा पर मेहरबान हुआ है। पिछले कुछ दिनों से दिल्ली-एनसीआर में बारिश हो रही है। कई इलाकों में बारिश के चलते जलभराव भी हो गया है, जिससे चालकों को दिक्कत पेश आई।

सच निकला बारिश का पूर्वानुमान

इसके साथ ही भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (Indian Meteorological Department) का पूर्वानुमान अब सही साबित हो गया है। मौसम विभाग ने पूरे सप्ताह बारिश का पूर्वानुमान जताया है, जो सही साबित होता हुआ नजर आ रहा है। बुधवार को सुबह से बारिश की झड़ी लगी हुई है। वहीं रविवार तक इसी तरह बारिश होने के आसार हैं।

बारिश ने कराया सावन महीने का एहसास

दिल्ली के साथ-साथ एनसीआर के सभी शहरों में बुधवार सुबह से बारिश हो रही है, दोपहर बाद से जारी कहीं तेज तो कहीं मध्यम स्तर का बारिश ने जोर पकड़ा। एक अनुमान के मुताबिक, बुधवार को हो रही बारिश पूरे मानसून सीजन की सबसे बारिश साबित हो सकती है। फिलहाल बारिश को लेकर मौसम विभाग का आंकड़ा आना बाकी है, लेकिन बारिश ने सावन महीने जैसा एहसास करा दिया, जब बारिश की झड़ी लगती थी।

बुधवार को भी हुई थी अच्छी बारिश

दिल्ली-एनसीआर में बुधवार को भी 12 बजे के बाद बारिश शुरू हो गई थी, जो देर शाम तक कई इलाकों में होती रही। इसके चलते न्यूनतम और अधिकतम तापमान में गिरावट दर्ज की गई।

दिल्ली के मुंगेशपुर में हुई 10 मिलीमीटर की बारिश

वहीं, बुधवार को अधिकतम तापमान 34.1 डिग्री जबकि न्यूनतम तापमान 25.1 डिग्री दर्ज किया गया। दोनों ही सामान्य स्तर पर रहे। हवा में नमी का स्तर 98 से 69 प्रतिशत दर्ज किया गया। जहां तक बरसात का सवाल है तो सबसे अधिक 10 मिलीमीटर वर्षा मुंगेशपुर में हुई।

30 जून को दिल्ली-एनसीआर पहुंचा था मानसून

बता दें कि इस बार मानसून 2022 ने तीन दिन की देरी से यानी 30 जून को दस्तक दी थी। इसके बाद 3 जुलाई तक ठीक ठाक बारिश हुई, लेकिन फिर यह ठंडा पड़ गया। कुल मिलाकर दिल्ली में 50 प्रतिशत बारिश भी नहीं हुई है, लेकिन सितंबर के अंत में ऐसी ही बारिश होती रही तो यह कमी कुछ हद तक पूरी हो सकती है।

Raju Srivastava Death News: राजू श्रीवास्तव के लगभग सभी अंग कर रहे थे काम फिर क्यों हुई मौत?

दिल्ली-NCR के कई इलाकों में तेज बारिश, गुरुग्राम में कई सड़कें हुई तालाब में तब्दील, लग गया 10 km लंबा जाम

Raju Srivastava की बचाई जा सकती थी जान ! हार्ट अटैक के बाद क्यों अहम होते हैं 30 मिनट

Edited By: Jp Yadav