नई दिल्ली [रणविजय सिंह]। Delhi Metro News: 7 सितंबर को दिल्ली मेट्रो का संचालन 3 चरणों में शुरू हुआ था। इसके बाद 13 सितंबर से मेट्रो का संचालन पूरे दिल्ली-एनसीआर में सामान्य हो गया था और मेट्रो को रफ्तार भरते अब 15 दिन हो चुके हैं। इस दौरान लगातार मेट्रो यात्रियों में लगातार इजाफा हो रहा है। महज 8000 यात्रियों से रफ्तार भरने वाली मेट्रो में अब रोजाना लाखों लोग सफर करने लगे हैं। इस बीच शारीरिक दूरी के नियमों का पालन नहीं करने और मास्क नहीं लगाने पर 2000 से ज्यादा लोगों पर कार्रवाई हो चुकी है।

रोजाना 4 लाख से अधिक लोग कर रहे हैं सफर

गौरतलब है कि दिल्ली मेट्रो का परिचालन शुरू हुए 15 दिन हो गए हैं और मेट्रो में अब प्रतिदिन करीब साढ़े चार लाख यात्री सफर कर रहे हैं। ऐसे में सुबह व शाम को व्यस्त समय के दौरान मेट्रो में शारीरिक दूरी के नियम टूटने लगे हैं। कई यात्री मेट्रो में सफर के दौरान जानबूझकर भी कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव के नियमों का पालन नहीं कर रहे हैं। ऐसे 2214 यात्रियों पर दिल्ली मेट्रो रेल निगम (Delhi Metro Rail Corporation) जुर्माना लगा चुका है। यह कार्रवाई मेट्रो में मास्क नहीं लगाने व शारीरिक दूरी के नियम का पालन नहीं करने पर की गई है। उन सभी यात्रियों पर 200-200 रुपये जुर्माना किया गया है।

यहां पर बता दें कि डीएमआरसी ने नियम तोड़ने वाले यात्रियों से कुल 4 लाख 42 हजार 800 रुपये जुर्माना वसूल किया है। दरअसल, मास्क के बगैर मेट्रो स्टेशनों पर प्रवेश नहीं मिल पाता है, लेकिन सुरक्षा जांच के बाद कुछ यात्री मास्क हटा लेते हैं। वहीं, कुछ यात्री खाली छोड़ी गई सीट पर भी बैठ जाते हैं। यही नहीं शारीरिक दूरी बनाए रखने के लिए मेट्रो कोच के फर्श पर स्टीकर लगाए गए हैं, लेकिन व्यस्त समय में भीड़ होने पर यात्री इस नियम का भी पालन नहीं करते हैं। इस वजह से फ्लाइंग स्क्वायड की टीम ने यलो लाइन (समयपुर बादली-हुडा सिटी सेंटर) पर सबसे अधिक 724 यात्रियों पर जुर्माना लगाया गया है। इसके अलावा वायलेट लाइन (कश्मीरी गेट-बल्लभगढ़), ब्लू लाइन (द्वारका सेक्टर 21- नोएडा इलेक्ट्रॉनिक सिटी/वैशाली) पर कार्रवाई की गई है। यह तीनों दिल्ली मेट्रो के सबसे व्यस्त कॉरिडोर हैं। डीएमआरसी पांच हजार लोगों की काउंसलिंग भी की गई है।

रेड लाइन- 134

यलो लाइन- 724

ब्लू लाइन- 545

वायलेट लाइन- 580

ग्रीन लाइन- 26

पिंक लाइन- 79

मजेंटा लाइन- 109

ग्रे लाइन- 17

गौरतलब है कि दिल्ली-एनसीआर के लाखों लोगों की लाइफलाइन दिल्ली मेट्रो के संचालन से काफी राहत मिली है। खासकर एनसीआर के शहरों में आना-जाना आसान हुआ है।

Coronavirus: निश्चिंत रहें पूरी तरह सुरक्षित है आपका अखबार, पढ़ें- विशेषज्ञों की राय व देखें- वीडियो

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस