नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। दिल्ली मेट्रो की ट्रेनों में सफर करते हैं तो यह खबर आपके बेहद काम की है। दिल्ली मेट्रो का परिचालन सामान्य होते ही पॉकेटमार गिरोह भी सक्रिय हो गया है। ये गिरोह न केवल जेब काटने और पर्स उड़ाने में माहिर है, बल्कि अब तो मेट्रो में सफर के दौरान लैपटाप भी रखना सुरक्षित नहीं रह गया है।

मेट्रो में यात्री का लैपटाप चुराने वाले दो गिरफ्तार

दिल्ली पुलिस मेट्रो रेल यूनिट के स्पेशल स्टाफ ने हाल ही में लैपटाप चोरी करने के मामले में दो आरोपितों को गिरफ्तार किया है। दोनों ने अपने नाम मुकेश व विपिन कुमार बताए हैं। दोनों नोएडा सेक्टर 31 के रहने वाले हैं। इनकी निशानदेही पर डेढ़ लाख रुपये मूल्य के चोरी के लैपटाप बरामद किए गए हैं।

इस बाबत पश्चिमी दिल्ली के नजफगढ़ निवासी राजेश डागर ने चार अगस्त को आइजीआइ मेट्रो थाने में शिकायत दर्ज कराई थी। इसमें कहा गया कि किसी ने उनका लैपटाप चोरी कर लिया। इसके बाद दिल्ली पुलिस ने कार्रवाई करते हुए नोएडा सेक्टर 31 के रहने वाले मुकेश और विपिन को गिरफ्त कर लिया। पूछताछ में इन दोनों ने कबूल किया है कि कोरोना के बाद लॉकडाउन ने उनका रोजगार छीन लिया, इसके बाद ये चेन झपटमारी करने लगे।

Kisan Andolan: यूपी के विधानसभा चुनाव से पहले आखिर क्यों परेशान हो रहे राकेश टिकैत

 

मेट्रो में चोरनियों को गिरोह भी सक्रिय

बता दें कि दिल्ली मेट्रो में चोरनियों का गिरोह भी सक्रिय है। सुरक्षा संभालने वाली सीआइएसएफ के अधिकारियों की मानें तो दिल्ली मेट्रो में होने वाली ज्यादातर चोरी की वारदातें महिला गिरोह के अंजाम दे रहे हैं। इतना ही नहीं, 90 फीसद चोरियों में महिलाओं का हाथ होता है।

यह भी पढ़ेंः UPSC Civil Services: जामिया आरसीए के लिए आवेदन शुरू, छात्रों को नि:शुल्क में मिलेगी कोचिंग

 

बरतें ये सतर्कता

ये भी पढ़ें- दिल्ली पुलिस के हवलदार ने की अधिकारियों की शिकायत बोला, लुटेरे, झपटमारों व शराब तस्करों से इनकी साठगांठ, पढ़िए और क्या आरोप लगाए

 

Edited By: Jp Yadav