गाजियाबाद [आशीष गुप्ता]। हिंडन एलिवेटेड रोड को न्यू लिंक रोड से जोड़ा जाएगा। गाजियाबाद विकास प्राधिकरण ने इसके लिए संभावनाएं तलाशनी शुरू कर दी हैं। इन दोनों के जुड़ने से बुलंदशहर, ग्रेटर नोएडा और नोएडा के लोगों को हिंडन एलिवेटेड रोड के रास्ते मेरठ, देहरादून और सहारनपुर जाने में सहूलियत होगी।

गूगल मैप की मदद

स्थानीय स्तर पर विजयनगर और सिद्धार्थ विहार के लोगों को इस रोड का सीधा लाभ मिलेगा। अधिकारी अपने स्तर से योजना बनाने के लिए गूगल मैप की मदद ले रहे हैं। वहीं, इसके लिए सलाहकार से मदद लेने को उनसे प्रस्ताव मांगे गए हैं। इस रोड की उपयोगिता बढ़ाने के लिए किसी और मार्ग से जोड़ना संभव हुआ तो उससे जोड़ने का प्रस्ताव भी मांग गया है। डीएनडी से जोड़ने के लिए पहले ही प्रयास शुरू हो गए हैं।

अभी बुलंदशहर और नोएडा जाने वालों को नहीं फायदा

हिंडन एलिवेटेड रोड का बुलंदशहर, नोएडा और ग्रेटर नोएडा जाने और वहां से आने वालों को सीधा फायदा नहीं है। एनएच-नौ पर काफी घूमकर एलिवेटेड रोड पर आना पड़ता है। कोशिश यही है कि नोएडा से आने-जाने वालों को सीधा लाभ दिया जाए। इसके लिए लिंक रोड को सिद्धार्थ विहार डीपीएस के पास बनी रोड को आरओबी के नजदीक हिंडन एलिवेटेड रोड से जोड़ने की संभावना तलाशी गई है। करीब ढाई किलोमीटर तक का रोड और एलिवेटेड रैंप बनाकर इसे जोड़ा जा सकता है। 

प्रदूषण की निगरानी के लिए लगेंगे यंत्र

इस रोड को पर्यावरण मंजूरी देते वक्त ध्वनि और वायु प्रदूषण की निगरानी के लिए यंत्र लगाने की शर्त लगाई गई थी। शर्त का पालन करने के लिए जीडीए दोनों तरह के यंत्र लगाने की तैयारी कर रहा है। हर छह महीने बाद स्टेट एनवायरमेंट इंपैक्ट असेसमेंट आथॉरिटी के पास उसकी रिपोर्ट भेजी जानी है। जीडीए इसके लिए एनवायरमेंटल सेल भी बनाएगा। जिसमें जीडीए के अधिकारियों समेत एक सलाहकार को जगह दी जाएगी। सलाहकार का चयन करने के लिए आवेदन मांगे गए हैं।

सलाहकारों से प्रस्ताव मांगे गए

जीडीए उपाध्यक्ष रितु माहेश्वरी ने बताया कि हिंडन एलिवेटेड रोड को न्यू लिंक रोड से जोड़ने के लिए प्लान बनाया जा रहा है। इसके लिए सलाहकारों से प्रस्ताव मांगे गए हैं। वह बताएंगे कि इसे बनाना संभव हो पाएगा या नहीं। 

यह भी पढ़ें: पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमत लोगों को लाई करीब, दूसरे विश्व युद्ध जुड़ा है इसका इतिहास

Posted By: Amit Mishra

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप