नई दिल्ली [स्वेदश कुमार]। गांधीनगर, न्यू अशोक नगर और मयूर विहार फेज-दो के बाद सांसद गौतम गंभीर की जन रसोई अब लक्ष्मीनगर में पहुंचने वाली है। अगले महीने यहां जन-रसोई शुरू हो जाएगी। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के जन्मदिन पर गौतम गंभीर ने इसकी घोषणा की। बता दें कि जन-रसोई में लोगों को एक रुपये में भरपेट भोजन मिलता है। एक रुपये सम्मान राशि के रूप में ली जाती है, ताकि किसी को यह न लगे कि वह मुफ्त में खाना खा रहे हैं।

इस संबंध में ट्वीट करते हुए गौतम गंभीर ने कहा कि प्रधानमंत्री दिनरात देश के 130 करोड़ लोगों के लिए काम कर रहे हैं। उनके जन्मदिन के इस अवसर में मेरी तरफ से यह एक तोहफा लोगों को दिया जा रहा है। किसी गरीब भाई-बहन या उनके परिवार को भूखा ना सोना पड़े। इसके लिए जन-रसोई की शुरुआत की गई थी।

धीरे-धीरे अब इनकी संख्या बढ़ाई जा रही है। लोगों की प्रतिक्रिया काफी सकारात्मक रही है। गंभीर के करीबियों ने बताया कि मयूर विहार फेज-दो में डलावघर को जिस तरह से जन-रसोई में तब्दील किया गया है। ठीक उसी तर्ज पर लक्ष्मीनगर में भी डलावघर का चयन किया गया है।

डलावघर में कूड़ा डालना बंद कर दिया गया है। इसे ही जन रसोई के रूप में बदला जाएगा। इस पर काम शुरू कर दिया गया है। उम्मीद है कि अगले महीने सांसद गौतम गंभीर इसे जनता को समर्पित कर देंगे। बता दें कि सांसद गौतम गंभीर ने कोरोना महामारी की दूसरी लहर के समय भी आगे बढ़ कर लोगों की खूब दिल खोल कर मदद की थी। इसके लिए लोगों उनकी तारीफ की थी। बता दें कि गौतम गंभीर लगातार समाज सेवा के लिए तत्पर रहते हैं। इसके साथ ही वह दिल्ली सरकार पर लोगों के हित में काम करने को लेकर लगातार काम करने का दबाव बनाते रहते हैं।

Edited By: Prateek Kumar