नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। तिहाड़ जेल संख्या आठ- नौ में बंद एक विचाराधीन कैदी की संदिग्ध परिस्थिति में मौत मामले की मजिस्ट्रेट जांच जारी है। मुकेश अरोड़ा (63 वर्ष) सेना में कैप्टन रह चुके थे और इनके पास अमेरिका व कनाडा की नागरिकता थी। मुकेश दिल्ली कैंट थाना में दर्ज चोरी के एक मामले में आरोपित थे।

इस मामले में पहले मुकेश जासूसी का भी आरोप लगा था, जिसके बाद खुफिया एजेंसियों व दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने पूछताछ भी की। बाद में सेना के पुस्तकालय से किताबों की चोरी के आरोप में मुकेश को गिरफ्तार किया गया था। जेल में मौत के मामले को देखते हुए हरिनगर थाना पुलिस ने मामला दर्ज किया है। 

 जेल अधिकारियों के मुताबिक हादसा तब हुआ जब मुकेश को जेल में पहली मंजिल पर बने कमरे में ले जाया जा रहा था। पहली मंजिल पर पहुंचते ही वे नीचे गिर गए। अभी यह स्पष्ट नहीं हो सका है कि मौत की वजह खुदकशी है या कुछ और है। पुलिस पोस्टमार्टम रिपोर्ट की प्रतीक्षा कर रही है ताकि सही कारण का पता चले। जेल प्रशासन का कहना है कि मुकेश को काउंसिलिंग के लिए ले जाया जा रहा था तभी पहली मंजिल की छत से वे गिर गए। सिर में अधिक चोट लगने के कारण डीडीयू अस्पताल में उसे भर्ती कराया गया। बाद में उन्हें सफदरजंग अस्पताल रेफर किया गया।

 Odd-Even से दिल्ली के लोगों को बड़ी राहत, आज से 3 दिनों तक करें बिनी किसी पाबंदी के सफर

EXCLUSIVE: अयोध्या में खोदाई के दौरान मंदिर के पर्याप्त साक्ष्य मिले थे: डॉ. बीआर मणि

दिल्‍ली-एनसीआर की खबरों को पढ़ने के लिए यहां करें क्‍लिक

Posted By: Mangal Yadav

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप