नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। ग्रेटर कैलाश स्थित मैक्स वेटनरी अस्पताल के डॉक्टरों ने फीमेल डॉग खुशी के शरीर में पेसमेकर लगाकर सफलतापूर्वक परीक्षण किया है। खुशी की धड़कनें बीमार होने के बाद 20 बीट प्रति मिनट हो गई थी। दिल की धड़कनें कम होने से उसे सांस लेने में परेशानी होने लगी थी।

पेसमेकर लगाकर बढ़ाई धड़कनें

पेसमेकर लगाकर उसकी धड़कनों को 60-120 बीट के बीच नियंत्रित करके उसे स्वस्थ कर दिया गया है। ये सर्जरी करीब डेढ घंटे तक चली थी। अस्पताल ने दावा किया है कि भारत में किसी डॉग को पेसमेकर लगाने का यह पहला मामला है।

कम हो रही थीं डॉग की धड़कनें

कार्डियोलोजिस्ट डॉ. भानुदेव शर्मा ने बताया कि डॉग की धड़कनें काफी कम हो रही थीं। इससे वह बेहोश होने लगी थी। डॉग की धड़कनें 60-120 बीट प्रति मिनट होनी चाहिए थी लेकिन वह सिर्फ 20 बीट प्रति मिनट थी। इसके कारण उसके शरीर के अंग काम करना बंद कर रहे थे। ऑपरेशन के बाद पेसमेकर लगाकर उसे एक नया जीवन दिया गया है।

लगभग पूरी तरह दिल ने काम करना किया था बंद

डॉ. शर्मा ने कहा कि डॉग के कान का ऑपरेशन पिछले साल फरवरी में भी किया गया था। इस दौरान उसका दिल लगभग पूरी तरह काम करना बंद कर चुका था, उसके बाद टीम ने पेसमेकर लगाने की योजना बनाई। ऑपरेशन करने से पहले डॉ. शर्मा व डॉ. कुणाल देव ने यूरोपियन डॉक्टरों से इस केस पर लंबी बातचीत की थी।

दिल्ली-एनसीआर की खबरों को पढ़ने के लिए यहां करें क्लिक 

दिल्ली के चुनाव की खबरों को पढ़ने के लिए यहां करें क्लिक

Delhi Assembly Election Results 2020: चांदनी चौक सीट पर अलका लांबा को मिल रही AAP-BJP से कड़ी टक्कर

Posted By: Prateek Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस