नई दिल्ली [संतोष कुमार सिंह]। दिवाली के आसपास यदि आप देश की पहली कॉरपोरेट सेक्टर की ट्रेन तेजस से लखनऊ जाना चाहते हैं तो आपको ढाई गुना ज्यादा किराया देकर टिकट खरीदना होगा। इस ट्रेन का उद्घाटन चार अक्टूबर को लखनऊ से होगा, जबकि पांच अक्टूबर से यह नई दिल्ली से नियमित रूप से चलने लगेगी।

शुरू हो गई है बुकिंग

शनिवार से इसकी बुकिंग भी शुरू हो गई है और पहले दिन सबसे ज्यादा दिवाली के आसपास के दिनों की बुकिंग हुई। परिणामस्वरूप उन दिनों में टिकट के दाम भी बढ़ गए हैं, क्योंकि डॉयनमिक फेयर लागू होने के कारण मांग के साथ ही इसका किराया भी बढ़ जाता है।

यहां जानिए- कितना बढ़ेगा किराया

दिल्ली से लखनऊ तक एससी चेयरकार का किराया 1125 रुपये है, लेकिन मांग बढ़ने की वजह से पांच अक्टूबर के लिए 1375 रुपये में टिकट मिल रहा है। वहीं, दिवाली के आसपास (23 से 26 अक्टूबर तक) का किराया 2875 रुपये तक पहुंच गया है। हालांकि, एक्जीक्यूटिव क्लास का टिकट शनिवार शाम तक मूल किराया पर ही उपलब्ध था। इसी तरह से लखनऊ से दिल्ली के लिए भी पहले दिन ज्यादा किराया नहीं देना पड़ा।

साढ़े छह घंटे में पूरा होगा नई दिल्ली से लखनऊ का सफर

नई दिल्ली से लखनऊ (82502/82501) और अहमदाबाद से मुंबई के बीच तेजस एक्सप्रेस चलाने की जिम्मेदारी भारतीय रेलवे खानपान एवं पर्यटन निगम (आइआरसीटीसी) को दी गई है। इसका किराया शताब्दी ट्रेन से ज्यादा रखा गया है। मंगलवार को छोड़कर सप्ताह में छह दिन यह ट्रेन लखनऊ से सुबह 6.10 बजे चलकर दोपहर 12.25 बजे नई दिल्ली पहुंचेगी। जबकि नई दिल्ली से अपराह्न 3.35 बजे चलकर रात 10.05 बजे लखनऊ जंक्शन पहुंचेगी। लखनऊ से दिल्ली पहुुंचने में 6.15 घंटे तथा नई दिल्ली से वापस लखनऊ पहुंचने में 6.30 घंटे का समय लगेगा। वहीं, स्वर्ण शताब्दी से 6.35 घंटे का समय लगता है। इस ट्रेन में ज्यादा सुविधाएं होने के कारण किराया भी ज्यादा रखा गया है और भविष्य में इसकी रफ्तार भी बढ़ाई जाएगी।

लखनऊ से दिल्ली किराया

एसी चेयरकार- 1,125 रुपये (बेस किराया 895 रुपये + जीएसटी 45 रुपये + कैटरिंग चार्ज 185 रुपये)

एक्जीक्यूटिव चेयर कार: 2,310 रुपये (बेस किराया 1,966 रुपये + जीएसटी 99 रुपये + कैटरिंग चार्ज 245 रुपये)

दिल्ली से लखनऊ का किराया

एसी चेयरकार- 1,280 रुपये (बेस किराया 895 रुपये + जीएसटी 45 रुपये + कैटरिंग चार्ज 340 रुपये)

एक्जीक्यूटिव चेयरकार-2,450 रुपये (बेस किराया 1,966 रुपये + जीएसटी 99 + कैटरिंग चार्ज 385 रुपये)

किसी भी तरह की छूट नहीं

आइआरसीटीसी द्वारा संचालित इस ट्रेन के किराये में किसी भी तरह की कोई छूट नहीं मिलेगी। न तो इसमें वरिष्ठ नागरिकों को किराये में छूट मिलेगी न हीं रेल कर्मचारियों के प्रिविलेज या ड्यूटी पास का लाभ मिलेगा। सफर करने के लिए निर्धारित किराया चुकाना होगा।

टाइम टेबल

लखनऊ से नई दिल्ली (मंगलवार छोड़कर)

स्टेशन- पहुंचने का समय-रवाना होने का समय

लखनऊ जंक्शन- यहीं से रवाना होगी-सुबह 6.10 बजे

कानपुर-सुबह 7.20 बजे-सुबह 7.25 बजे

गाजियाबाद-पूर्वाह्न 11.45 बजे-पूर्वाह्न 11.47 बजे

नई दिल्ली-दोपहर 12.25 बजे-

नई दिल्ली से लखनऊ (मंगलवार छोड़कर)

स्टेशन- पहुंचने का समय-रवाना होने का समय

नई दिल्ली- यहीं से रवाना होगी-अपराह्न 3.35 बजे

गाजियाबाद- शाम 4.09 बजे- शाम 4.11 बजे

कानपुर- देर शाम 8.35 बजे- देर शाम 8.40 बजे

लखनऊ जंक्शन- रात 10.05 बजे

सर्वर में खराबी से टिकट लेने में हुई परेशानी 

तेजस से सफर करने वालों को टिकट लेने में परेशानी का सामना करना पड़ा। आइआरसीटीसी के सर्वर में बार-बार दिक्कत होने से कई लोग टिकट बुक करने से वंचित रह गए। आदित्य तिवारी का कहना था कि आइआरसीटीसी की साइट पर कभी कैप्चा भरने में दिक्कत हो रही थी तो कभी किराया भुगतान नहीं हो रहा था। इसी तरह की शिकायत कई अन्य यात्रियों ने भी की है।

खास होगी ट्रेन की सुविधा

यह ट्रेन कई मायनों में खास होगी। आरामदायक और तेज गति का सफर कराने के साथ ही इसमें लग्जरी होटल जैसा आराम मिलेगा। यात्रियों का भरपूर मनोरंजन होगा। हर बोगी में मुफ्त वाई-फाई के साथ मू¨वग टॉकीज दिल बहलाएगी, जिसमें रेलवे के प्री प्रोग्राम फीचर होंगे। यात्री एंड्रायड फोन पर रेलवे के ये कार्यक्रम वाई-फाई से कनेक्ट होकर देख सकेंगे। तेजस क्लास में फ्लाइट जैसी आधुनिक सुविधाएं होंगी। कुल 12 बोगियों वाली इस ट्रेन में एक्जक्यूटिव और चेयरकार दो तरह के क्लास होंगे। दो बोगियां एक्जक्यूटिव और आठ बोगियां चेयरकार की होंगी। एक्जक्यूटिव क्लास की एक बोगी में 56 और चेयरकार में 76 यात्री सफर कर सकेंगे।

खूबियां

  • हर सीट के ऊपर होगा अटेंडेंट को बुलाने के लिए पीला बटन
  • पढ़ाई के लिए रीडिंग बटन की सुविधा
  • बटन दबाते ही खुलेंगे और बंद होंगे खिड़की के पर्दे
  • बोगी के दोनों छोर पर होंगे सेंसर युक्त स्लाइडिंग दरवाजे
  • करीब जाते ही खुद खुल जाएंगी सेंसर वाली डस्टबिन
  • सिगरेट पीने पर स्वयं ही रुक जाएगी ट्रेन
  • संदिग्ध लोगों पर नजर रखेंगे हर बोगी में लगे छह सीसी कैमरे
  • चेन की जगह इमरजेंसी में ट्रेन रोकने के लिए लगे हैं हैंडल
  • विजुअल और एनाउंस से यात्रियों को भी मिलेगी तुरंत सूचना
  • हर बोगी में लगे हैं एंटी ब्रेकिंग सिस्टम, जो पहिए को जाम नहीं होने देंगे।
  • ओएचई से बिजली लेकर उसे बोगियों के लिए कनवर्ट करने की तकनीक।
  • शौचालय में कितना पानी है यह बताएगा इंडीकेटर।
  • गार्ड के पास होगा गेट खोलने और बंद करने वाला बटन।
  • हर बोगी में सूप व कॉफी बनाने के लिए मिनी किचन।
  • बोगी में होंगे दो सेंट्रल टेबल, पब्लिक इंफॉर्मेशन डिस्प्ले भी।

 दिल्ली-NCR की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां पर करें क्लिक

Posted By: JP Yadav

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस