नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। नवरात्र शुरू हो चुके हैं। पूजा का आज दूसरा दिन है। बृहस्पतिवार को मां दुर्गा के दूसरे रूप ब्रह्मचारिणी की पूजा हो रही है। भक्‍त लॉकडाउन के कारण मंदिर नहीं जो पा रहे हैं और घरों में ही पूरी तन्मयता से माता रानी की पूजा कर रहे हैं। भक्त नौ दिनों तक भक्त मां भगवती के अलग-अलग रूपों की आराधना करेंगे। बुधवार से शुरू हुए नवरात्र में भक्तों ने घरों में ही कलश स्थापित कर मां भगवती के पहले स्वरूप शैलपुत्री की आराधना की। वहीं, दिल्ली व एनसीआर के भक्तों ने मां भगवती के मंदिरों के पट होने के चलते उनके स्वरूप का ऑनलाइन दर्शन भी किए हैं। साथ ही फेसबुक,वाट्सएप समेत अन्य माध्यमों से ऑनलाइन व लाइव आरती के भी दर्शन किए हैं।

दिल्‍ली की इन मंदिरों में माता के दर्शन हुए ऑनलाइन

दिल्ली के झंडेवालान, कालकाजी व छतरपुर मंदिर से भक्तों के लिए ऑनलाइन दर्शन की व्यवस्था की गई है। बुधवार से नवरात्रि की शुरू हो चुकी है। लोगों ने मां भगवती को प्रसन्न करने के लिए व्रत रखे हैं। झंडेवालान मंदिर के मुख्य पुजारी अंबिका प्रसाद पंत ने बताया कि कोरोना वायरस के कारण दिल्ली के सभी मंदिरों के पट बंद हैं। उन्होंने बताया कि नवरात्र के पहले दिन मां शैलपुत्री का विधिवत पूजन किया जाता है। उन्होंने मां शैलपुत्री के बारे में बताते हुए कहा कि पर्वतराज हिमालय के घर पुत्री के रूप में उत्पन्न होने के कारण मां दुर्गा का नाम शैलपुत्री पड़ा है।

शैलपुत्री के पूजन से जीवन में आती है स्‍थिरता

मां शैलपुत्री नंदी नाम के वृषभ पर सवार होती हैं और उनके दाहिने हाथ में त्रिशूल और बाएं हाथ में कमल का फूल होता है। मां शैलपुत्री के पूजन से जीवन में स्थिरता और दृढ़ता आती है। विशेष रूप से महिलाओं को मां शैलपुत्री के पूजन से विशेष लाभ मिलता है। महिलाओं की पारिवारिक स्थिति, दांपत्य जीवन, कष्ट क्लेश और बीमारियां मां शैलपुत्री की कृपा से दूर होती हैं। उन्होंने बताया कि सुबह और शाम की आरती का मंदिर के यू-ट्यूब चैनल पर लाइव किया जा रहा है, जहां भक्त मां के दर्शन कर रहे हैं।

पुजारी अंबिका प्रसाद पंत ने बताया कि मंदिर में आने पर भक्त केवल मां के दर्शन ही कर सकते हैं, लेकिन जब भक्त नवरात्र के दौरान घर में दुर्गा सप्तशती का पाठ करते हैं तो उन्हें मां की पूजा व ध्यान लगाने के लिए अधिक समय मिलता है। 

Posted By: Prateek Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस