नई दिल्ली [राहुल चौहान]। दिल्ली प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय (Delhi Technological University) में स्नातक के बीटेक पाठ्यक्रमों में दाखिले की प्रक्रिया पूरी होने के बाद अब पढ़ाई शुरू करने की तैयारी है। इसके लिए डीटीयू के डीन अकादमिक (स्नातक) प्रो मधुसूदन सिंह द्वारा वर्ष 2020-21 सत्र के लिए अकादमिक कैलेंडर भी जारी कर दिया गया है। कैलेंडर में दिए गए कार्यक्रम के अनुसार 2 दिसंबर को विश्वविद्यालय का ऑनलाइन सत्रारंभ कार्यक्रम होगा, जो 4 दिसंबर तक चलेगा। वहीं सात दिसंबर से पढ़ाई शुरू होगी। इसके साथ ही नए कार्यों के लिए छात्र 15 जनवरी तक संबंधित फैकल्टी में प्रस्ताव जमा कर सकते हैं। इसके बाद 4 से 15 जनवरी के बीच पहले प्रयोगात्मक टेस्ट और क्लास टेस्ट होंगे। फिर 21 जनवरी से फैकल्टी द्वारा छात्रों द्वारा टेस्ट में प्राप्त अंकों को ऑनलाइन सबमिट किया जाएगा। इसके बाद 15 फरवरी से छात्रों द्वारा किए गए नवीन कार्यों और नवीन प्रयोगात्मक कार्यों की समीक्षा की जाएगी। वहीं 15 फरवरी से 26 फरवरी के बीच दूसरे क्लास टेस्ट और प्रयोगात्मक टेस्ट शुरू होंगे। इस तरह से बीटेक छात्रों के पहले सेमेस्टर की पढ़ाई 26 मार्च को खत्म होगी।

अप्रैल में होंगी पहले सेमेस्टर की परीक्षाएं

मार्च के अंतिम सप्ताह में पढ़ाई खत्म होने के बाद परीक्षाएं शुरू होंगी। 2 अप्रैल तक छात्रों की प्रयोगात्मक परीक्षाओं के बाद उनके अंक सबमिट किए जाएंगे। वहीं 9 अप्रैल तक परीक्षा शाखा द्वारा कोर्स कॉर्डिनेटर्स को ग्रेड दिए जाएंगे। ये सारी प्रक्रिया पूरी होने के बाद 30 अप्रैल को पहले सेमेस्टर का परीक्षा परिणाम घोषित किया जाएगा।

जानिये- डीटीयू के बारे में

  • दिल्ली प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय को मूल रूप से वर्ष 1940 में दिल्ली पालीटेक्निक (बहुतकनीकी संस्थान) के रूप में स्थापित किया गया था।
  • भारत सरकार के नियंत्रण में रहा डीटीयू दिल्ली का पहला इंजीनियरिंग कॉलेज है और भारत के उन कुछ इंजीनियरिंग कॉलेजों में से है जो स्वतंत्रता से पहले स्थापित किए गए थे।
  • 1963 के बाद से यह दिल्ली की राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र सरकार के नियंत्रण में है और 1952 से 2009 तक यह कॉलेज दिल्ली विश्वविद्यालय से सम्बद्ध रहा। इसके बाद 2009 में कॉलेज को राज्य विश्वविद्यालय का दर्जा दिया गया तथा इसका नाम बदलकर 'दिल्ली प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय' कर दिया गया।
  • डीटीयू बैचलर ऑफ टेक्नोलॉजी (बी.टेक), मास्टर ऑफ टेक्नोलॉजी (एम.टेक), डॉक्टर ऑफ फिलॉसफी (पीएचडी) और मास्टर ऑफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन (एमबीए) की उपाधियों के लिए पाठ्यक्रम प्रदान करता है। 

Coronavirus: निश्चिंत रहें पूरी तरह सुरक्षित है आपका अखबार, पढ़ें- विशेषज्ञों की राय व देखें- वीडियो

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस