नई दिल्ली, आनलाइन डेस्क। दिल्ली-एनसीआर के लोगों को इन दिनों ठंड के साथ-साथ वायु प्रदूषण और कोहरे का भी सामना करना पड़ रहा है। दिल्ली के साथ गुरुग्राम, ग्रेटर नोएडा, फरीदाबाद, पलवल और सोनीपत में  तुलनात्मक रूप से अन्य दिनों की तुलना में बृहस्पतवार को अधिक घना कोहरा छाया हुआ है। इससे लोगों को खासतौर से वाहन चालकों को दिक्कत पेश  आई। कम विजिबिलिटी के चलते वाहन चालकों को फाग लाइट जलाने के बाजवूद अपनी रफ्तार बेहद धीमी करनी पड़ी। पश्चिमी दिल्ली के पालम इलाके में कोहरे का असर ज्यादा है, लेकिन विमानों की उड़ानें सामान्य हैं। दिल्ली इंटरनेशनल एयरपोर्ट लिमिटेड के मुताबिक, पालम स्थित  इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर कम दृश्यता की प्रक्रिया चल रही है। सभी उड़ान संचालन वर्तमान समय में सामान्य है।मौसम विभाग के पूर्वानुमान के अनुसार, बृहस्पतिवार को भी आंशिक रूप से बादल छाए रहेंगे और अधिकतम व न्यूनतम तापमान क्रमश: 18 और 10 डिग्री सेल्सियस रहने की संभावना है।

बहुत खराब श्रेणी में है दिल्ली एनसीआर की हवा

बृहस्पतिवार को भी दिल्ली एनसीआर में वायु गुणवत्ता का स्तर बहुत खराब श्रेणी में ही दर्ज किया गया। सभी जगहों का एयर इंडेक्स 300 से ऊपर रहा। बुधवार को भी यही स्थिति रही। केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) द्वारा जारी एयर क्वालिटी बुलेटिन के अनुसार बुधवार को दिल्ली का एयर इडेक्स 322 रिकार्ड हुआ। मंगलवार को यह 352 था। यानी 24 घंटों के भीतर इसमें 30 अंकों की गिरावट आई। एनसीआर के शहरों में फरीदाबाद का एयर इंडेक्स 359, गाजियाबाद का 323, ग्रेटर नोएडा का 314, गुरुग्राम का 328 व नोएडा का 310 रिकार्ड किया गया। दिल्ली में पीएम 2.5 का स्तर 143 जबकि पीएम 10 का स्तर 246 माइक्रोग्राम प्रति क्यूबिक मीटर रहा।सफर इंडिया का पूर्वानुमान है कि अभी दो दिन वायु गुणवत्ता के स्तर में ज्यादा बदलाव की संभावना नहीं है। शनिवार को बारिश के असर से वायु गुणवत्ता में भी सुधार हो सकता है। 

Edited By: Jp Yadav