नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। नोटबंदी के 3 साल पूरे होने पर शुक्रवार को दिल्ली प्रदेश कांग्रेस ने जबरदस्त प्रदर्शन किया। व्यापक स्तर पर ये प्रदर्शन नई दिल्ली में स्थित रिजर्व बैंक के पास हुआ। इस दौरान यूथ कांग्रेस के कार्यकर्ता शामिल हुए। इस दौरान भीड़ को काबू करने के लिए लाठी चार्ज करना पड़ा। आज ही के दिन यानी 8 नवंबर 2016 को देशभर में नोटबंदी की घोषणा की गई थी। जैसे ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देशवासियों को एलान कर बताया कि अब 500 और 1000 के नोट का प्रचलन बंद हो जाएगा। इसके बाद सभी लोगों का काफी समस्याओं का सामना करना पड़ा।

इस फैसले के बाद जनता को पुराने नोट जमा करने लिए 2 महीने का समय दिया। इस फैसले के बाद लोगों को बीच अफरातफरी मच गई। इस फैसले के बाद बेकाबू होती भीड़ का जमावड़ा बैंकों में दिखा। जनता अपने पुराने  नोटों को जमा करने की अंतिम तारीख को ध्यान में रखते हुए अपनी जमा पूंजी को बैंक में जमा कराने के लिए बैंक पुहंचे।

पुराने नोट बंद करने के बाद जनता को ऐसा महूसस हुआ जैसे उसके ही पैसा को वह खर्च नहीं कर सकता है। 100, 500 और 100 के नोट का प्रचलन बंद होने के बाद देशभर में कैश की दिक्कतों का सामना करना पड़ा।  इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तरफ से इस निर्णय में कुछ बदलाव करते हुए शादी के घर के लिए धन की सीमा बढ़ा दी गई।

दो महीने तक तो लोगों काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा लेकिन कुछ समय बाद सब ठीक होने लगा।  प्रधानमंत्री ने काले धन को रोकने के लिए ये फैसला लिया। शुरुआत में इस फैसले का काफी विरोध हुआ। कुछ समय बीतने के बाद धीरे-धीरे हालात सामान्य होने लगे। 

दिल्ली-एनसीआर की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां पर करें क्लिक

Posted By: Pooja Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप