नई दिल्ली [राकेश कुमार सिंह]। Delhi Violence Case : उत्तर पूर्वी दिल्ली में 24-25 फरवरी को हुई हिंसा मामले में दिल्ली पुलिस की स्पेशल ने बड़ी कामयाबी हासिल करते हुए दंगों की साजिश में नामी विश्वविद्यालय के छात्र को गिरफ्तार किया है। हैरानी की बात है कि यह छात्र विश्वविद्यालय से पीएचडी कर रहा है।  

मिली जानकारी के मुताबिक, गिरफ्तार युवक मीरान हैदर जामिया मिल्लिया इस्लामिया विश्वविद्यालय (Jamia Millia Islamia university) का छात्र है। PHD कर रहे छात्र मीरान हैदर पर आरोप है कि उसने दिल्ली दंगों की साजिश  रची है। यह भी बताया जा रहा है कि मीरान के साथ दंगों में आरोपित कई अन्य लोगों की भी गिरफ्तारी जल्द ही हो सकती है। यह भी संभव है कि दिल्ली दंगों की साजिश में जामिया विश्वविद्यालय के कुछ और छात्रों का नाम सामने आए।

यहां पर बता दें कि उत्तर पूर्वी दिल्ली के ब्रह्मपुरी, जाफराबाद समेत दर्जनभर इलाकों में 24-25 फरवरी को दंगा हुआ था। इन दंगों में 50 से अधिक लोगों की जान चली गई थी और सैकड़ों की संख्या में लोग घायल हुए थे। दिल्ली पुलिस ने हिंसा को लेकर सैकड़ों लोगों को गिरफ्तार किया, इनमें से कई लोग जमानत पर हैं।

AAP के निलंबित पार्षद हैं जेल में बंद

बता दें कि आम आदमी पार्टी के निलंबित पार्षद ताहिर हुसैन भी हिंसा के आरोप में जेल में बंद हैं। ताहिर पर इंटेलिजेंस ब्यूरो के अधिकारी अंकित शर्मा की हत्या की साजिश रचने का भी आरोप लगा है। इसी के साथ उन पर भीड़ को  भड़काने जैसे संगीन आरोप भी लगे हैं। 

अंकित शर्मा की बर्बर तरीके से हुई थी हत्या

पुलिस जांच में अंकित शर्मा की हत्या को लेकर कई सनसनीखेज खुलासे हुए हैं। इस बाबत सीसीटीवी फुटेज भी मिले, जिसमें अंकित शर्मा की बर्बर तरीक से हत्या का पता चला है। इसी के साथ पोस्टमार्टम रिपोर्ट में भी खुलासा हुआ था कि उस पर  चाकुओं के कई दर्जन बार वार हुए थे। 

हिंसा के आरोप में बंद हैं कांग्रेस की पूर्व पार्षद

हिंसा के लिए उकसाने के आरोप में कांग्रेस की पूर्व महिला पार्षद भी जेल में बंद हैं। उन पर पूर्वी दिल्ली में हिंसा के लिए लोगों को उकसाने का आरोप लगा है। 

Posted By: JP Yadav

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस