नई दिल्ली [राहुल चौहान]। दिल्ली विश्वविद्यालय (डीयू) का स्कूल आफ ओपन लर्निंग (एसओएल) अब इस सत्र से मास्टर आफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन (एमबीए) भी कराएगा। सोमवार को कुलपति प्रो. योगेश सिंह ने एमबीए सहित एसओएल के छह नए कोर्स लांच किए। इसी सप्ताह से नए कोर्स सहित एसओएल के सभी कोर्स में दाखिला प्रक्रिया शुरू हो जाएगी। दाखिला प्रक्रिया पूरी तरह आनलाइन होगी।

वाइस रीगल लाज के सभागार में आयोजित कार्यक्रम में कुलपति ने बताया कि 28 साल बाद ऐसा हुआ है कि जब एसओएल ने नए कोर्स शुरू किए हैं। उन्होंने बताया कि नए शुरू किए जा रहे चार स्नातक और दो स्नातकोत्तर कोर्स रोजगार-उन्मुख और पेशेवर पाठ्यक्रम पर आधारित होंगे। इन कोर्स के शुरू होने से विद्यार्थियों की रोजगार क्षमता कई गुना बढ़ जाएगी।

इस अवसर पर एसओएल की निदेशक प्रो. पायल मागो ने बताया कि प्रति वर्ष लगभग साढ़े पांच लाख विद्यार्थी एसओएल में प्रवेश लेते हैं। इन नए कोर्सों के बाद विद्यार्थियों की संख्या में और इजाफा होगा। उन्होंने बताया कि एमबीए को छोडकर बाकी सभी पांच नए कोर्सों में सीटों की संख्या असीमित है। एमबीए में 20 हजार सीटों की स्वीकृति मिली है, जिनके लिए दाखिले मेरिट के आधार पर होंगे।

प्रो. मागो ने बताया कि नए शैक्षणिक सत्र के लिए एसओएल के सभी कोर्सों में दाखिले राष्ट्रीय शिक्षा नीति (एनईपी) के तहत हो रहे हैं। इसलिए स्नातक कोर्स की अवधि चार वर्ष होगी।। इस अवसर पर कुलसचिव डा. विकास गुप्ता, एसओएल के प्राचार्य प्रो. उमा शंकर पांडेय, पीआरओ अनूप लाठर सहित एसओएल के संकायय सदस्य उपस्थित रहे।

ये भी पढ़ें-  Delhi News: महिलाओं के कल्याण से संबंधित एक मामले में दिल्ली हाईकोर्ट ने मांगी किरण बेदी से मदद

ये होंगे नए कोर्स

  • बैचलर आफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन (बीबीए) फाइनेंशियल इन्वेस्टमेंट एनेलाइजेज (एफआइए),
  • बैचलर आफ मैनेजमेंट स्टडीज (बीएमएस)
  • बैचलर आफ आर्ट्स (आनर्स) अर्थशास्त्र
  • बैचलर आफ लाइब्रेरी एंड इन्फार्मेशन साइंस (बीएलआइएससी)
  • मास्टर आफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन (एमबीए)
  • मास्टर आफ लाइब्रेरी एंड इन्फार्मेशन साइंस (एमएलआइएससी)

Edited By: Pradeep Kumar Chauhan

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट