नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। Delhi University Mock Text:  दिल्ली विश्वविद्यालय ने सोमवार को मॉक टेस्ट का आयोजन किया। पहले ही दिन मॉक टेस्ट के दौरान छात्रों को प्रश्न पत्र को डाउनलोड करने से लेकर अपने उत्तर अपलोड करने में दिक्कतें आई थी। पाठ्यक्रम से नहीं पूछा कोई सवालनई दिल्ली के राजेंद्र नगर स्थित जानकी देवी मेमोरियल कॉलेज की बीए प्रोग्राम की अंतिम वर्ष की छात्रा नंदिनी गुप्ता ने बताया उन्होंने दोपहर 3:30 बजे से शाम 6:30 बजे के दौरान मॉक टेस्ट दिया। परीक्षा में उनसे उनके पाठ्यक्रम से संबंधित कोई सवाल नहीं पूछा गया। उन्होंने बताया कि परीक्षा में करंट अफेयर्स जैसे कोविड-19 महामारी आदि के बारे में कई सवाल पूछे गए जबकि पाठ्यक्रम से संबंधित पसंद के विषय पर एक 300 शब्द की टिप्पणी लिखने के लिए बोला गया। ज्यादातर सवाल सीधे तौर पर पाठ्यक्रम से जुड़े नहीं थे।

छात्रों का वक्त खराब न करे डीयू

वहीं, डीयू के रामजस कॉलेज के पॉलिटिकल साइंस के अंतिम वर्ष के छात्र आशीष सिंह ने कहा कि डीयू प्रशासन को अगर अपने सर्वर को चेक ही करना है तो वह अपने कर्मचारियों को बैठाकर इसकी क्षमता की जांच क्यों नहीं करता है। छात्रों को एक समान प्रश्न पत्र क्यों दिए गए। यह छात्रों के समय की बर्बादी है। उन्होंने सवाल खड़े करते हुए कहा कि छात्र कितनी बार मॉक टेस्ट देंगे। छात्रों को उनके पाठ्यक्रम से जुड़े सवाल पूछे जाने चाहिए थे।

गौरतलब है कि दिल्ली विश्वविद्यालय (Delhi University) प्रशासन का दावा है कि सोमवार को ऑनलाइन मॉक टेस्ट का आयोजन व्यवस्थित ढंग से हुआ है। डीयू के मीडिया समन्वयक प्रो. संजीव सfxह ने बताया कि ऑनलाइन ओपन बुक परीक्षा के अनुरूप छात्रों को ढालने के लिए मॉक टेस्ट का आयोजन किया जा रहा है। मॉक टेस्ट वैकल्पिक व्यवस्था है जो भी छात्र इसे देना चाहते हैं। जो इस परीक्षा को नहीं देना चाहता वह इसे नहीं देने के लिए भी स्वतंत्र है।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस