नई दिल्ली [अरविंद कुमार द्विवेदी]। रिंग रोड और साउथ कैंपस के बेनितो जुआरेज मार्ग पर बन रहा अंडरपास और स्काइवाक जल्द शुरू हो जाएगा। लोक निर्माण विभाग (पीडब्ल्यूडी) के सूत्रों के अनुसार, जल्द ही प्रोजेक्ट पूरा हो जाएगा और मार्च में इसे चालू कर दिया जाएगा। अंडरपास में अब केवल खुले एरिया में रूफिंग और लाइटिंग का काम बाकी है। वहीं, स्काइवाक के लिए पिलर भी बनकर तैयार हो गए हैं। उन पर स्टील के रेडीमेड गार्डर लगाए जा रहे हैं।

यह प्रोजेक्ट पूरा हो जाने से एयरपोर्ट से मोती बाग, एम्स या सेंट्रल दिल्ली जाने वालों को धौलाकुआं जाने की जरूरत नहीं होगी। इन इलाकों में आने-जाने के लिए बेनितो जुआरेज मार्ग पर वाई-शेप में 1.8 किलोमीटर लंबा अंडरपास और इसी के ऊपर 670 मीटर लंबा स्काइवाक बनाया जा रहा है। अभी गुरुग्राम और एयरपोर्ट की ओर से एम्स, मोतीबाग और सेंट्रल दिल्ली जाने के लिए लोगों को धौलाकुआं से होकर आना-जाना पड़ता है। लेकिन, अंडरपास शुरू होने के बाद ये लोग सीधे आउटर रिंग रोड होते हुए बेनितो जुआरेज मार्ग और वहां से अंडरपास के रास्ते एम्स या मोती बाग की ओर जा सकेंगे।

अंडरपास दुर्गा बाई देशमुख साउथ कैंपस मेट्रो स्टेशन से वाई-शेप में दो दिशाओं में बनाया गया है। एक हिस्सा सेन मार्टिन रोड और दूसरा रिंग रोड पर निकल रहा है। खास बात यह कि धौलाकुआं पर अभी यातायात का जो दबाव देखने को मिलता है, अंडरपास के शुरू हो जाने से वह दबाव काफी हद तक घट जाएगा। वहीं, स्काइवाक बन जाने से साउथ कैंपस के छात्र-छात्रएं मेट्रो से उतरकर सीधे कालेज आ-जा सकेंगे। जीसस एंड मेरी कालेज की ओर से स्काइवाक सीधे मेट्रो स्टेशन से जोड़ा गया है।

यह होगा फायदा

अंडरपास के जरिये बेनितो जुआरेज मार्ग से सीधे रिंग रोड या सेन मार्टिन मार्ग जाना संभव हो सकेगा। अभी मैत्रेयी कालेज से सेन मार्टिन मार्ग की ओर जाने के लिए धौलाकुआं फ्लाईओवर से घूमकर जाना पड़ता है। अभी बेनितो जुआरेज मार्ग से राइट टर्न लेकर रिंग रोड पर मोतीबाग की ओर नहीं जाया जा सकता है। अंडरपास बन जाने से रिंग रोड पर राइट टर्न लिया जा सकेगा। अंडरपास का एक रास्ता दाएं मोतीबाग की ओर मोड़ा गया है। सेन मार्टिन मार्ग जाने वाले लोग सीधे जा सकेंगे।

Edited By: Pradeep Chauhan