नई दिल्ली, एएनआइ/ जागरण संवाददाता। दिल्ली में वायु प्रदूषण से सोमवार को भी लोगों को कोई राहत नहीं मिली है। हवा की गुणवत्ता रविवार को पिछले तीन साल में सबसे ज्यादा खराब रही। एएनआइ के मुताबिक, सोमवार सुबह लोधी रोड इलाके में पीएम 2.5 और पीएम 10 दोनों 500 दर्ज किया गया। यह दोनो स्तर खतरनाक श्रेणी में आते हैं।

वहीं राजपथ पर सोमवार सुबह स्मॉक (smog) की चादर दिखाई दी। स्मॉक की वजह से दृष्यता भी काफी कम रही।

सरकार ने जारी की एडवाइजरी

उधर, प्रदूषण के मद्देनजर दिल्ली सरकार ने स्वास्थ्य से संबंधित चेतावनी जारी की है। साथ ही लोगों को सुझाव दिया है कि प्रदूषण से बचाव के लिए लोग अपने घरों में ही रहें। बेवजह बाहर न निकलें। सुबह व शाम में प्रदूषण का असर अधिक होता है। इसलिए सुबह व शाम में सैर व व्यायाम न करें।

इसके अलावा लोगों को बीड़ी, सिगरेट का इस्तेमाल नहीं करने की भी सलाह दी गई है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के निर्देश पर यह चेतावनी जारी की गई है। स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा कि सड़कों पर अधिक देर तक रहने वाले लोगों को अपना विशेष ख्याल रखें।

बता दें कि ट्रैफिक पुलिसकर्मी, रिक्शा, ऑटो चालक व रेहड़ी पटरी लगाने वाले लोग घंटो समय सड़कों के किनारे बिताते हैं। इस वजह से उन पर प्रदूषण का दुष्प्रभाव अधिक पड़ने की आशंका है। यही वजह है कि दिल्ली सरकार ने उन्हें सतर्क रहने की सलाह दी है। सत्येंद्र जैन ने कहा कि लंबे समय तक प्रदूषण के दुष्प्रभाव से स्वस्थ लोगों को सांस की बीमारियां हो सकती हैं। वहीं पुरानी बीमारियों से पीड़ित लोग यदि थोड़े समय भी प्रदूषण के बीच रहें तो उन्हें सांस की बीमारी हो सकती है। इसलिए घर से बाहर न निकलें।

ऑड इवेन व्यवस्था का उल्लंघन करने पर काटे जा रहे चालान,  कोई भी बहाना नहीं सुन रही पुलिस 

दिल्‍ली-एनसीआर की खबरों को पढ़ने के लिए यहां करें क्‍लिक

 

Posted By: Mangal Yadav

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस