नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। 18 से 44 वर्षीय लोगों के बाद अब 45 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों का भी टीकाकरण सरकारी स्कूलों में होगा। उप-मुख्यमंत्री के आदेश के बाद जिला प्रशासन ने स्कूलों को चिन्हित करने का काम शुरू कर दिया गया है। जानकारी के मुताबिक 18 से 44 और 45 वर्ष से अधिक उम्र, इन दोनों ही वर्गाें का टीकाकरण अलग-अलग स्कूलों में होगा। फिलहाल दक्षिण-पश्चिमी जिले में दस और पश्चिमी जिले में दस स्कूलों में सोमवार से टीकाकरण शुरू करने की बात कहीं जा रही है। इन स्कूलों को नजदीकी डिस्पेंसरियों से संबद्ध किया गया है। यानि शुरुआती कुछ दिन स्कूल व डिस्पेंसरी दोनों में टीकाकरण होगा, पर धीरे-धीरे दिल्ली सरकार की डिस्पेंसरियों में टीकाकरण की प्रक्रिया को पूरी तरह बंद कर दिया जाएगा।

ठीक इसी प्रकार धीरे-धीरे अस्पतालों में भी टीकाकरण अभियान को बंद कर उसे स्कूल में शिफ्ट किया जाना है। अधिकारियों का कहना टीकाकरण अभियान के चलते अस्पताल व डिस्पेंसरियों पर दबाव बढ़ गया है, जिसके कारण अन्य कार्य प्रभावित हो रहे है। दूसरा डिस्पेंसरियों में बुधवार और शुक्रवार को टीकाकरण बंद रहता है, क्योंकि इस दिन डिस्पेंसरियों में बच्चों का टीकाकरण किया जाता है। पर स्कूल में टीका केंद्र स्थापित होने के बाद यह दोनों ही तरह की समस्या दूर होने की उम्मीद जताई जा रही है।

शनिवार काे दक्षिण-पश्चिमी जिला प्रशासन ने चिन्हित दस स्कूलों में तैयारियां शुरू हो चुकी है, जबकि पश्चिमी जिले में अभी चिन्हित केंद्रों पर विचार-विमर्श जारी है। स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक चिन्हित केंद्रों के नामों पर फिलहाल मुहर नहीं लगी है। जानकारी के मुताबिक दक्षिण-पश्चिमी जिले में चिन्हित स्कूलों में केवल विकासपुरी ए-ब्लाक स्थित सरकारी स्कूल में ही कोवैक्सिन टीका उपलब्ध होगा, शेष सभी टीका केंद्रों पर कोविशिल्ड टीका ही लगाया जाएगा।

इसके अलावा टीका लगने के बाद व्यक्ति में किसी भी तरह की परेशानी होती है तो ऐसी परिस्थिति में व्यक्ति को नजदीकी अस्पताल में भर्ती किया जाएगा। इसके लिए सभी आठ टीका केंद्रों को डाबड़ी स्थित दादा देव मातृ एवं शिशु चिकित्सालय और केवल दो छावला व नंगली सकरावती स्थित स्कूल को राव तुला राम अस्पताल से संबद्ध किया गया है।

नहीं होगा अप्वाइंटमेंट का झंझट 

जानकारी के मुताबिक स्कूलों में बनाए जा रहे टीका केंद्रों पर असीमित 45 वर्ष से अधिक उम्र के लोग टीकाकरण करा सकेंगे। असल में अधिक दबाव के कारण डिस्पेंसरियों व अस्पतालों में बनी साइट पर फिलहाल केवल अप्वाइंटमेंट प्राप्त 200 लोगों का ही टीकाकरण किया जा रहा है। पर स्कूलों में टीका केंद्र स्थापित होने के बाद लोग पहले की तरह आनलाइन पंजीकरण कराकर सीधा टीकाकरण कराने के लिए केंद्र पर आ सकेंगे। यानि लक्ष्य के पार जाकर भी इन टीका केंद्रों पर टीकाकरण हो सकेगा।

सरकार के इस फैसले के बाद अधिक से अधिक लोग टीकाकरण करा सकेंगे। अधिकारियों का कहना है कि 45 से अधिक उम्र के लोगों के लिए स्वास्थ्य विभाग के पास पर्याप्त मात्रा में टीके उपलब्ध है। ऐसे में हमारा लक्ष्य है कि इस वर्ग के सभी लोगों को जल्द से जल्द सुरक्षा प्रदान की जाएं।

दक्षिण-पश्चिमी जिले में चिन्हित स्कूल 

  • सर्वोदय कन्या विद्यालय, विकासपुरी ए-ब्लाक
  • राजकीय सह-शिक्षा उच्चतर माध्यमिक विद्यालय, विपिन गार्डन
  • सर्वोदय कन्या विद्यालय नंबर-2, जनकपुरी सी-ब्लाक
  • दक्षिणी दिल्ली नगर निगम प्राथमिक विद्यालय, नंगली सकरावती
  • राजकीय सह-शिक्षा उच्चतर माध्यमिक विद्यालय, साइट-2, द्वारका
  • राजकीय सह-शिक्षा उच्चतर माध्यमिक विद्यालय, द्वारका सेक्टर-13
  • सर्वोदय कन्या विद्यालय, राजनगर पार्ट-2
  • सर्वोदय कन्या विद्यालय नंबर-2, पालम गांव
  • राजकीय उच्चतर माध्यमिक बाल विद्यालय, शिव विहार
  • सर्वोदय कन्या विद्यालय, छावला
  • सर्वोदय कन्या विद्यालय, प्रेम नगर
  • राजकीय उच्चतर माध्यमिक बाल विद्यालय नंबर-2 रघुबीर नगर  
  • सर्वोदय कन्या विद्यालय, रंजीत नगर
  • सर्वोदय कन्या विद्यालय, पटेल नगर वेस्ट
  • सर्वोदय कन्या विद्यालय नंबर-2, तिलक नगर
  • राजकीय उच्चतर माध्यमिक बालिका विद्यालय, बापरौला
  • राजकीय उच्चतर माध्यमिक सह-शिक्षा विद्यालय, हिरण कूदना
  • राजकीय उच्चतर माध्यमिक बालिका विद्यालय, नांगलोई, सुल्तानपुरी रोड
  • निगम प्राथमिक विद्यालय, पश्चिम विहार
  • राजकीय उच्चतर माध्यमिक बाल विद्यालय, निहाल विहार