नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। स्वास्थ्य के क्षेत्र में पूर्वी दिल्ली नगर निगम एक बड़ा कदम उठाने जा रहा है। इसके तहत महंगी जांचों से लोगों को राहत देने की तैयारी है। इसके लिए निगम अपने चार अस्पतालों में पब्लिक-प्राइवेट पार्टनरशिप (पीपीपी) माडल पर पैथ लैब और इमेजिंग सेंटर स्थापित करेगा।

इनमें सीटी स्कैन, एमआरआइ सहित अन्य महंगी जांचें रियायती दर पर होंगी। अभी तक सबसे कम दर पर सेंट्रल गवर्नमेंट हेल्थ स्कीम (सीजीएचएस) कार्ड धारकों की ही जांच होती है। निगम की कोशिश है कि आम लोगों को इससे भी कम दर पर यह सुविधा मिल सके। इसके लिए टेंडर जारी किया गया है।

पूर्वी निगम ने दिलशाद गार्डन स्थित स्वामी दयानंद अस्पताल, करावल नगर स्थित वीर सावरकर अस्पताल, शाहदरा स्थित पाली क्लीनिक और पटपड़गंज स्थित डा. श्यामा प्रसाद चेस्ट अस्पताल में सेंटर बनाने की तैयारी की है। इसमें जो जांचें अस्पताल में हो रही हैं, उन्हें छोड़कर अन्य सभी जांचें मरीजों को उपलब्ध कराई जाएंगी। साथ ही एमआरआइ और सीटी स्कैन भी किया जाएगा।

यहां पर सिर्फ कलेक्शन सेंटर बनाया जाएगा। अगर मरीज को जांच के लिए दूसरी जगह ले जाना है, तो इसका खर्च भी एजेंसी वहन करेगी। निगम सेंटर बनाने के लिए निश्शुल्क जगह उपलब्ध कराएगा। साथ ही बिजली और पानी का खर्च भी वहन करेगा। निगम अधिकारियों ने कहा कि सीमित संख्या में पहले आओ, पहले पाओ के आधार पर बीपीएल कार्ड धारकों के लिए जांचें निश्शुल्क रखने की तैयारी है। इसके साथ निगम के अस्पतालों के अलावा बाहर के मरीजों को भी सुविधा प्रदान करने पर विचार चल रहा है। अंतिम फैसला टेंडर के आधार पर लिया जाएगा।

Edited By: Pradeep Chauhan