नई दिल्ली। दिल्ली में इंडिया गेट के पास नए बनाए गए कर्तव्य पथ घुमने के लिए आने वाले लोगों के लिए खुशखबरी है। अब यदि उनको यहां पर किसी तरह की समस्या का सामना करना पड़ता है तो थाने की तलाश नहीं करनी होगी बल्कि वो कर्तव्य पथ के नाम से बनाए गए थाने में शिकायत दर्ज करा सकेंगे।

मालूम हो कि कुछ दिन पहले ही प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने इसका उद्घाटन किया है। एक साल से अधिक समय तक पुर्निर्माण के लिए इसे बंद रखा गया था। अब इसका स्वरूप बदल गया है। यहां हजारों की संख्या में रोजाना लोग आ रहे हैं। परिवार के साथ आकर लोग यहां एंजाय करते हैं। राष्ट्रपति भवन से इंडिया गेट तक सड़क का विस्तार जिसे पहले राजपथ के नाम से जाना जाता था। उसे अब कर्तव्य पथ के नाम से जाना जा रहा है।

कार्तव्य पथ पुलिस स्टेशन "उन स्थानीय क्षेत्रों की देखरेख करेगा जिन्हें पुलिस स्टेशनों तिलक मार्ग, साउथ एवेन्यू और पार्लियामेंट स्ट्रीट के अधिकार क्षेत्र से बाहर रखा गया है। अभी तक ये पूरा इलाका इन्हीं तीनों पुलिस स्टेशनों के अधिकार क्षेत्र में आता था।

ये नया कर्तव्य पथ मोदी सरकार की महत्वाकांक्षी सेंट्रल विस्टा पुनर्विकास परियोजना का हिस्सा है, सेंट्रल विस्टा में एक नया त्रिकोणीय संसद भवन, एक आम केंद्रीय सचिवालय, एक नया प्रधान मंत्री निवास और कार्यालय, और एक नए उपराष्ट्रपति के एन्क्लेव की भी परिकल्पना की गई है।

नए रुप रंग में आए कर्तव्य पथ को देखने के लिए लोगों में काफी क्रेज देखने को मिल रहा है। लोग अपने पूरे परिवार के साथ यहां आकर हरी घास में बैठते हैं और समय बिताते हैं। लोगों की सुविधा के लिए इंडिया गेट के पास तक जाने के लिए अब सड़क मार्ग का इस्तेमाल नहीं करना पड़ता है, अंडरपास से बिना ट्रैफिक को डिसटर्ब किए ही लोग दूसरी ओर जा सकते हैं। ऐसे में ट्रैफिक प्रभावित नहीं होता है। इन्हीं अंडरपास वाले हिस्से में कई पेटिंग्स भी लगाई गई है, लोग उसे भी देखते हैं और फोटो क्लिक करवाते हैं।

Edited By: Vinay Kumar Tiwari