नई दिल्ली [संजीव गुप्ता]। उमस भरी गर्मी के बीच मौसम विभाग ने बुधवार और बृहस्पतिवार को ठीकठाक वर्षा होने की संभावना जताई। बुधवार को हल्की जबकि बृहस्पतिवार को अच्छी बरसात हो सकती है। बरसात से उमस कम होगी। इसके बाद 12-13 जुलाई से एक बार फिर वर्षा का दौर शुरू हो सकता है।

इधर मंगलवार को भी सूरज और बादलों की लुकाछिपी में दिन भर उमस भरी गर्मी ने परेशान किया। तापमान में भी इजाफा हो रहा है। दिल्ली का अधिकतम तापमान सामान्य से एक डिग्री अधिक 37.9 डिग्री सेल्सियस एवं न्यूनतम तापमान सामान्य से एक डिग्री ज्यादा 29.0 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ।

हवा में नमी का स्तर 88 से 55 प्रतिशत रहा। बरसात शाम साढ़े पांच बजे तक जाफरपुर में 1.5 मिमी जबकि मयूर विहार में 4.0 मिमी रिकार्ड की गई।स्काईमेट वेदर के उपाध्यक्ष (मौसम विज्ञान एवं जलवायु परिवर्तन) महेश पलावत ने बताया कि इस समय मध्य भारत में कम दबाव का क्षेत्र बना हुआ है।

इसीलिए वहां पर अच्छी बरसात हो रही है और उत्तर भारत के हिस्सों में उमस बढ़ी हुई है। लेकिन मानसून ट्रफ के धीरे धीरे उत्तर भारत की ओर बढ़ने से 12-13 जुलाई से यहां भी ठीकठाक बरसात होने का अनुमान है। उधर मौसम विभाग का कहना है कि मंगलवार को दिन भर बादल छाए रहेंगे।

हल्की वर्षा हो सकती है। जबकि बुधवार को मध्यम स्तर की बरसात होने की संभावना है। वैसे हल्की वर्षा 11 तारीख तक रोज भी हो सकती है। मौसम विभाग ने बृहस्पतिवार के लिए आरेंज अलर्ट और अन्य सभी दिनों के लिए येलो अलर्ट जारी किया हुआ है।

एनसीआर में मध्यम श्रेणी में रही हवा की गुणवत्ता

मंगलवार को भी दिल्ली एनसीआर की वायु गुणवत्ता मध्यम श्रेणी में दर्ज की गई। केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) द्वारा जारी एयर क्वालिटी बुलेटिन के अनुसार मंगलवार को दिल्ली का एयर इंडेक्स 161, फरीदाबाद का 157, गाजियाबाद का 138, गुरुग्राम का 219 व नोएडा का एयर इंडेक्स 145 दर्ज किया गया।

Edited By: Geetarjun Gautam