नई दिल्ली [रणविजय सिंह]। दिल्ली-एनसीआर को दिल्ली मेट्रो रेल निगम (Delhi Metro Rail Corporation) की तरफ से उनकी सबसे लंबी मेट्रो लाइन पर पर बिना ब्रेक के सफर करने का गिफ्ट मिला है। केन्द्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली मेट्रो की पिंक लाइन के त्रिलोकपुरी खंड का शुक्रवार को उद्घाटन किया। इसके बाद मयूर विहार पॉकेट-1 और त्रिलोकपुरी संजय लेक स्टेशनों के बीच करीब 289 मीटर लंबा त्रिलोकपुरी खंड 59 किलोमीटर लंबी पिंक लाइन से पूरी तरह जुड़ गया है। इसके साथ ही पूरी पिंक लाइन पर मेट्रो चलनी शुरू हो गई है।

यह अलग बात है कि पिंक लाइन का त्रिलोकपुरी-मयूर विहार पॉकेट एक कॉरिडोर अभी स्वचालित सिग्नल सिस्टम से नहीं जुड़ पाया है। इस वजह से इस हिस्से पर अभी मेट्रो का परिचालन मैनुअल तरीके से चालक करेंगे। इससे मेट्रो महज 25 किलोमीटर प्रति घंटे की धीमी रफ्तार से चलेगी।

डीएमआरसी का कहना है कि पिंक लाइन पर संचार आधारित ट्रेन कंट्रोल (सीबीटीसी) सिग्नल सिस्टम का इस्तेमाल किया गया है। इस मेट्रो लाइन के दो हिस्सों पर पहले से मेट्रो का परिचालन हो रहा था। ऐसी स्थिति में बीच के हिस्से को स्वचालित सिग्नल सिस्टम से जोड़ना तकनीकी रूप से आसान नहीं था। इस काम में दो माह समय लगेगा। लिहाजा अक्टूबर तक पिंक लाइन पर मजेंटा लाइन की तरह चालक रहित मेट्रो ट्रेनें रफ्तार भरने लगेगी। तब दिल्ली मेट्रो के कुल 96 किलोमीटर नेटवर्क पर चालक रहित स्वचालित मेट्रो रफ्तार भरेगी।

बता दें गि पिंक लाइन के पूरे रूट पर दिल्ली मेट्रो का परिचालन होने से उत्तर प्रदेश के नोएडा के लोग अपने दिल्ली के विभिन्न इलाकों में जाने के लिए 20-25 मिनट बचा सकेंगे। नोएडा से ईस्ट दिल्ली के बाजारों व ईस्ट दिल्ली के अलग-अलग एरिया में जाना इससे नोएडा के लोगों के लिए आसान हो जाएगा। इसके अलावा, पूरी दिल्ली आपस में जुड़ जाएगी।

Edited By: Jp Yadav