नई दिल्ली, ऑनलाइन डेस्क। कोरोना संक्रमण और लॉकडाउन के चलते तकरीबन एक महीने से ठप दिल्ली-एनसीआर के लाखों लोगों की लाइफलाइन दिल्ली मेट्रो सोमवार फिर रफ्तार भर रही है। दरअसल, अरविंद केजरीवाल सरकार के एलान के बाद सोमवार से दिल्ली के अनलॉक होने के साथ ही मेट्रो का परिचालन शुरू हो गया है। दिल्ली के राजीव गांधी, कश्मीरी गेट और आरके आश्रम मेट्रो स्टेशन पर कड़ी सुरक्षा जांच के बाद मेट्रो स्टेशनों पर प्रवेश दिया जा रहा है। मास्क लगाना और शारीरिक दूरी के नियमों का पालन करना यात्री के जरूरी है, वरना 200 रु. फाइन भरना होगा।

रोजाना सुबह 6 बजे से शुरू होगी मेट्रो सेवा

दिल्ली मेट्रो रेल निगम (Delhi Metro Rail Corporation) के इंतजामों और गाइडलाइन के मुताबिक, दिल्ली मेट्रो  सिर्फ 50 फीसद यात्री क्षमता के साथ ही चल रही है। ऐसे में पैसेंजर दिल्ली मेट्रो की ट्रेनों में एक सीट छोड़कर बैठ रहे हैं। इसके अलावा खड़े होकर सफर करने की इजाजत नहीं है। मेट्रो सेवा सुबह 6 बजे से शुरू हो गई है और रोजाना 6 बजे से शुरू होगी।

हो रही है थर्मल स्क्रीनिंग

ज्यादातर रूट पर पांच से 15 मिनट के अंतराल पर मेट्रो उपलब्ध हो रही है। सफर के दौरान मास्क लगाने व शारीरिक दूरी रखने जैसे नियमों का पालन नहीं करने पर जुर्माना किया जाएगा। इसके अलावा स्टेशन पर प्रवेश के दौरान थर्मल स्कैनिंग की जा रही है, इसके साथ ही यात्रियों के हाथ व बैग को भी सैनिटाइज किया जा रहा है।

डीएमआरसी ने लोगों को आसान सफर के लिए दी सलाह

डीएमआरसी ने यात्रियों से अपील की है कि वे घर से जल्दबाजी में सफर के लिए न निकलें। ऐसा करने पर यात्रा में विलंब हो सकता है, इसलिए अपने साथ 20-25 मिनट अतिरिक्त समय लेकर चलें। व्यस्त समय में कई स्टेशनों पर मेट्रो के लिए आधे घंटे तक इंतजार करना पड़ सकता है।

पढ़ें- दिल्ली सरकार की मेट्रो को लेकर गाइडलाइन और तैयारी

  • मेट्रो केवल 50 प्रतिशत सवारियों को लेकर ही चलेगी
  • हर लाइन पर करीब पांच से पंद्रह मिनट के अंतराल पर मेट्रो की सेवा मिलेगी
  • उपलब्ध ट्रेनों में से केवल आधी ट्रेन ही संचालित की जाएंगी कुल पचास फीसदी क्षमता के साथ ही मेट्रो अपनी सेवा शुरू करेगी
  • धीरे धीरे इन ट्रेनों की संख्या बढ़ा दी जाएगी।
  • बुधवार तक पूरी श्रमता के साथ मेट्रो सेवा का संचालन शुरू कर दिया जाएगा। इसके बाद पहले की तरह नियमित समय पर ट्रेनें मिलने लगेंगी।

Edited By: Jp Yadav