नई दिल्ली [रणविजय सिंह]। मेट्रो में व्यस्त समय में यात्रियों की भीड़ होने लगी है। इस वजह से यात्री खड़े होकर भी सफर करते देखे जा रहे हैं। इसका एक कारण यह है कि शुरुआती दो दिन 50 फीसद मेट्रो ट्रेनों का ही परिचालन हुआ, लेकिन बुधवार से सभी मेट्रो ट्रेनें ट्रैक पर उतरेंगी। ऐसे में मेट्रो की फ्रिक्वेंसी अधिक होगी और यात्रियों को ढाई से सात मिनट के अंतराल पर ही मेट्रो उपलब्ध हो जाएगी।

दिल्ली मेट्रो के नेटवर्क में 330 ट्रेनें

दिल्ली मेट्रो के नेटवर्क में 330 ट्रेनें हैं। 10 फीसद ट्रेनें रिजर्व में रहती हैं। सामान्य तौर पर प्रतिदिन करीबी 300 ट्रेनों का परिचालन होता है। कोरोना की दूसरी लहर में 28 दिन मेट्रो का परिचालन बंद रहने के बाद सोमवार को जब परिचालन शुरू हुआ तो 148 ट्रेनें ही ट्रैक पर उतरीं। मंगलवार को भी यही स्थिति रही। इस वजह से पांच से 15 मिनट के अंतराल पर मेट्रो का परिचालन हुआ। दिल्ली मेट्रो रेल निगम (डीएमआरसी) के अनुसार अब पहले की तरह 300 मेट्रो ट्रेनों का परिचालन शुरू हो जाएगा। इससे उम्मीद है कि स्टेशनों पर भीड़ कम होगी।

इतने मिनट के अंतराल पर मिलेगी मेट्रो

ब्लू लाइन (द्वारका सेक्टर 21-इलेक्ट्रानिक सिटी नोएडा/वैशाली) व यलो लाइन (समयपुर बादली-हुडा सिटी सेंटर) दिल्ली मेट्रो का सबसे व्यस्त कारिडोर है। यलो लाइन पर औसतन दो मिनट 44 सेकेंड से पांच मिनट 28 सेकेंड के अंतराल पर और ब्लू लाइन पर तीन से छह मिनट के अंतराल पर मेट्रो उपलब्ध होगी। इसके अलावा रेड लाइन (रिठाला-न्यू बस अड्डा गाजियाबाद) पर तीन मिनट 30 सेकेंड से से सात मिनट और वायलेट लाइन पर तीन मिनट 45 सेकेंड से सात मिनट के अंतराल पर मेट्रो उपलब्ध होगी।

ये भी पढ़ेंः जेएनयू में फिर बवाल, छात्रों ने लाइब्रेरी में की तोड़फोड़; कर्मचारियों को पीटा

सीट न मिले तो अगले स्टेशन पर उतर जाएं

डीएमआरसी का कहना है कि मेट्रो में खड़े होकर सफर करने वाले यात्रियों पर जुर्माना किया जा रहा है। इसलिए यात्री खड़े होकर सफर न करें। मेट्रो में सवार होने पर यदि सीट नहीं मिलती तो यात्री अगले स्टेशन पर उतरकर दूसरी ट्रेन पकड़ सकते हैं।

इसे भी पढ़ेंः Indian Railway News: लाॅकडाउन खुलते ही रेलवे ने दी बड़ी खुशखबरी, चार राज्यों के लाखों यात्रियों को होगा फायदा

इसे भी पढ़ेंः बच्चों के मास्क के लिए परेशान पैरंट्स के लिए खुशखबरी, तैयार किए गए विशेष प्रकार के मास्क, आप भी जानिए खासियतें

लर्निंग आउटकम और क्वालिटी एजुकेशन के मामले में लगातार तीन सालों से पिछड़ रही दिल्ली, जानें वजह

जल बोर्ड की इस स्कीम का 30 सितंबर तक उठा लें लाभ, नहीं तो जुर्माना लगकर घर पहुंचेगा बिल

 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप