नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। एनसीआरटीसी ने जंगपुरा रिजनल रैपिड ट्रांजिट सिस्टम (आरआरटीएस) स्टेशन के पास के अंडरपास बनाने का काम पूरा कर लिया है। चार लेन वाला यह अंडरपास मथुरा रोड के नीचे से गुजर रहा है जिससे जंगपुरा आरआरटीएस स्टेशन तक भारी मोटर वाहनों सहित सभी प्रकार के वाहनों की आवाजाही संभव हो जाएगी। जंगपुरा में स्टेशन के साथ ही आरआरटीएस नेटवर्क के फेज-1 में बनने वाले तीनों कारिडोर के लिए ट्रेन की स्टैबलिंग और मेंटेनेंस यार्ड भी बन रहा है।

एनसीआरटीसी द्वारा मथुरा रोड से जंगपुरा आरआरटीएस स्टेशन की ओर जाने के लिए चार लेन की एक कनेक्टिंग रोड बनाई जा रही है। इससे आश्रम, महारानी बाग, निजामुद्दीन और जंगपुरा निवासी बिना ट्रैफिक जाम में फंसे आराम से आरआरटीएस की सेवाओं का लाभ ले सकेंगे। अंडरपास का निर्माण बाक्स-पु¨शग तकनीक द्वारा किया गया है। पैदल यात्रियों के लिए दोनों ओर डेढ़ फुट चौड़ा फुटपाथ भी बनाया गया है।

दोनों ओर की दिशाओं के लिए प्रत्येक अंडरपास का बाक्स 8.5 मीटर चौड़ा है। जंगपुरा तक कनेक्टिविटी को पूरा करने के लिए मार्च तक यहां रैंप और लूप बनाए जाएंगे और इन्हें सड़क के बाकी हिस्सों से जोड़ दिया जाएगा।

अभी यह साइट तीन रेलवे लाइनों से घिरा हुआ है।

रेलवे ओवरब्रिज (आरओबी) के माध्यम से मौजूदा कनेक्टिविटी कम ऊंचाई के वाहनों के लिए पर्याप्त है, जबकि दूसरा विकल्प एक रेलवे क्रासिंग है जो ट्रेनों की लगातार आवाजाही के कारण सहज और निर्बाध नहीं है। 82 किमी लंबी दिल्ली-गाजियाबाद-मेरठ आरआरटीएस कारिडोर पर जंगपुरा 25वां स्टेशन है।

Edited By: Pradeep Chauhan