नई दिल्ली [वीके शुक्ला]। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार को चार बड़ी घोषणाएं की। केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में जिन परिवारों में कोरोना से किसी की भी मौत हुई है उनके नजदीकी परिजन को सरकार 50-50 हजार रुपये आर्थिक मदद देगी। इसका अलावा उनके परिवार को ढाई हजार की पेंशन भी मिलेगी। जिन बच्चों के माता-पिता का कोरोना से निधन हो गया है, वे अनाथ हो गए हैं उन्हें 25 वर्ष तक ढाई हजार रुपये की मदद मिलेगी। सीएम ने कहा कि अगर कोरोना से पति की मौत हो गई है तो पेंशन पत्नी को मिलेगी। यदि पत्नी की कोरोना से मौत हुई है तो आर्थिक मदद पति को मिलेगी। अगर अविवाहित की मौत कोरोना से हुई है तो मुआवजा उसके नजदीकी परिजन को मिलेगा।

सीएम ने कहा कि लॉकडाउन की वजह से लोगों के रोजगार खत्म हुए हैं। बहुत लोग ऐसे जिनके घर मे उनके अपनों की मौत हो गई है। कमानेवालों की मौत हुई है। कई बच्चे अनाथ हुए हैं, कई बुजुर्ग अकेले हुए हैं। दिल्ली सरकार उन सभी के साथ खड़ी है।

दस किलो अनाज मुफ्त देगी सरकार

इसके अलावा मुख्यमंत्री केजरीवाल ने राशन कार्ड धारकों के लिए भी बड़ी घोषणा की। उन्होंने कहा कि इस माह हर राशन कार्ड धारक काे 10 किलो राशन मुफ्त मिलेगा। पांच किलाे दिल्ली सरकार और पांच किलो केंद्र की ओर से मिलेगा। जिन लोगों के पास राशन कार्ड नही है। उन्हें भी राशन मिलेगा। इसके लिए आय प्रमाण पत्र की जरूरत नहीं पड़ेगी।

सीएम केजरीवाल की ये है चार घोषणाएं

पहली घोषणा

सीएम केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली सरकार हर महीने 72 लाख लोगों को 5 किलो राशन देती है, इस महीने राशन मुफ्त मिलेगा। 5 किलो राशन प्रधानमंत्री योजना के तहत मिलेगा यानी कुल 10 किलो राशन मिलेगा। कई लोग है, जिनके पास राशन कार्ड नही है उन्हें भी राशन मिलेगा। ऐसा पिछली बार भी किया था, इस बार भी किया जा रहा। जो कहेगा राशन चाहिए उसे राशन मिलेगा। 

दूसरी घोषणा

सीएम केजरीवाल ने कहा कि राजधानी में ऐसे कई लोग है, जिनके परिवार में कोरोना की वजह से किसी न किसी की मौत हुई है। इस मुसीबत की घड़ी में थोड़ी मदद कर सकते है। उन्हें 50 हजार रुपये का मुआवजा मिलेगा।

तीसरी घोषणा

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में ऐसे कई परिवारों में कमाने वाले की हो मौत हो गई है। उस परिवार को 50 हजार रुपये मुआवजा तो मिलेगा ही, साथ ही 2,500 रुपए की पेंशन भी मिलेगी। 

चौथी घोषणा

सीएम ने कहा कि ऐसे बच्चे जो अनाथ हो गए, जिनके मां- बाप की मौत हो गई है। ऐसे हर बच्चे को 25 साल की उम्र तक 2500 रुपए महीने दिए जाएंगे और साथ ही उनको शिक्षा भी मुफ्त में दी जाएगी। 

 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप