नई दिल्ली, एएनआइ। सरकारी कर्मचारियों को दफ्तर तक पहुंचाने के लिए दिल्ली सरकार ने बड़ा कदम उठाया है। दिल्ली सरकार की तरफ से सरकारी कर्मचारियों को दफ्तर तक भेजने के लिए सरकारी कॉलोनियों से प्राइवेट बसें चलाई जाएंगी। कालोनी के पास के मेट्रो स्टेशन से शटल बस सर्विस शुरू होगी, जिससे लोग मेट्रो से आएं और आसानी से दफ्तर पहुंचें। दिल्ली के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने कहा कि प्रदूषण की समस्या को कम करने के निजी वाहनों को कम करने की कोशिश की जा रही है।

अधिकांश कॉलोनियों से भी बस सेवा शुरू की जाएगी, जिससे लोग अपने निजी वाहन से दफ्तर ना आएं।दरअसल, दिल्ली में प्रदूषण का स्तर कम होने पर 29 नवंबर से सरकारी स्कूल व दफ्तर खोलने का निर्णय लिया गया है। अभी तक कर्मचारी वर्कफ्राम थे, लेकिन पर्यावरण मंत्री ने सभी सरकारी कर्मचारियों को एडवाइजरी जारी की गई है कि वे ज्यादा से ज्यादा पब्लिक ट्रांसपोर्ट का उपयोग करें। साथ दिल्ली में निजी वाहनों से आने से परहेज करें। इससे दिल्ली की आवोहवा में सुधार हो सकेगा। 

वायु प्रदूषण पर काबू पाने के मकसद ने दिल्ली सरकार ने गैर-जरूरी सामान लाने वाले ट्रकों की एंट्री पर 26 नवंबर तक बैन बढ़ाया था। इसके अलावा, दफ्तर बंद रहने के दौरान अधिकारी और कर्मचारी वर्क फ्राम होम के जरिये ही अपने सारे काम निपटाएंगे। इसके साथ ही निजी/प्राइवेट दफ्तरों और तमा निजी प्रतिष्ठानों को सलाह दी गई कि वे अपने कर्मचारियों को घर से काम कर कराएं। इसके साथ ही दिल्ली की सीमा में जरूरी सामान लेकर आने वाले ट्रकों को छोड़कर अन्य ट्रकों पर भी प्रतिबंध जारी रहेगा।

Edited By: Pradeep Chauhan